britain

    लंदन. भारत (India) में फिलहाल कोरोना (Corona) की दूसरी लहर से जान-माल का बहुत नुकसान हो रहा है। रोज कोरोना संक्रमण के नए रिकॉर्ड बनते देख जनमानस के मन में डर और चिंता बैठ गयी है।  इन सबके बीच अब  ब्रिटेन (Britain) ने भी भारत (India) को उन देशों की ‘रेड लिस्ट’ (Red List) में डाल दिया है, इसके तहत गैर-ब्रिटेन और आइरिश नागरिकों के भारत से ब्रिटेन जाने पर पूर्ण पाबंदी रहेगी। इतना ही नहीं अब विदेश से लौटे ब्रिटेन के लोगों के लिए होटल में 10 दिन तक क्वारंटीन में रहना भी विशेषरूप अनिवार्य कर दिया है।

    ब्रिटेन: भारतीय स्ट्रेन के 103 मामले सामने आए:

    दरअसल स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने ‘हाउस ऑफ कॉमन्स’ में इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि, ब्रिटेन में कोरोना वायरस के तथाकथित भारतीय स्ट्रेन  के 103 मामले सामने आए हैं। वहीं इनमें से अधिकतर मामले विदेश से लौटे यात्रियों से ही संबंधित हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि, ” हमने उस स्वरूप का विश्लेषण किया ताकि यह पता लग सके कि नये स्वरूप के चिंताजनक परिणाम तो नहीं जैसे कि बड़े पैमाने पर इसका संक्रामक होना या इलाज और टीका तैयार करने में मुश्किल होना आदि।’

    वहीं मंत्री हैनकॉक ने उपस्तिथ सांसदों को यह भी बताया कि, ” इन आंकड़ों के विश्लेषण के बाद हमने एहतियातन भारत को ‘रेड लिस्ट’ में डालने का मुश्किल भरा लेकिन जरूरी फैसला लिया। इसका अर्थ है कि अगर कोई गैर-ब्रितानी या आइरिश बीते दस दिन तक भारत में रहा है तो उसे ब्रिटेन में फिलहाल प्रवेश नहीं दिया जा सकता।हम नए नियमों को बिलकुल हल्के में नहीं ले रहे और आगामी शुक्रवार से इन्हें लागू पकी तौर पर लागू कर देंगे ।”

    हांगकांग ने भी लगाया  उड़ानों पर प्रतिबंध:

    बता दें कि इसके पहले हांगकांग ने भी आगामी  3 मई तक भारत से आने व जाने वाली सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है। यही नहीं अब तो हांगकांग सरकार ने पाकिस्तान और फिलीपींस को हांगकांग से जोड़ने वाली सभी उड़ानें भी कुछ समय अवधि के लिए रद्द करने का भी बड़ा फैसला किया है।

    ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन का भारत दौरा रद्द :

    गौरतलब है कि देश में लगातार कोरोना वायरस (Corona Virus) बेकाबू होते देख अब  ब्रिटेन (Britain) के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने अपनी भारत यात्रा को भी फिलहाल टाल दिया है।बता दें कि, ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन 25 अप्रैल को भारत यात्रा पर आने वाले थे लेकिन भारत में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर उन्हें इस यात्रा को रद्द करने का दबाव था जिसके बाद भारत यात्रा कैंसिल की गई। वैसे ब्रिटेन में विपक्षी लेबर पार्टी भी जॉनसन से अपना दौरा रद्द करने की मांग कर रही थी।  उन्होंने था कि बोरिस जॉनसन भारत के पीएम नरेंद्र मोदी से द्विपक्षीय संबंधों को लेकर ऑनलाइन चर्चा भी कर सकते हैं।