Teacher shows 'inappropriate' cartoon of Prophet Mohammad to children in a UK school, controversy escalates

लंदन: ब्रिटेन (Britain) के शीर्ष चिकित्सा सलाहकार (Medical Advisor) ने कहा है कि कोविड-19 (Covid-19) के मामलों के लिहाज से देश बहुत खराब मुकाम पर पहुंच चुका है और ऐसे संकेत हैं कि समय रहते कदम नहीं उठाए गए तो बीमारी बेतहाशा बढ़ सकती है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस विट्टी सरकार के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार पैट्रिक वैलेंस के साथ इस बारे में पक्ष रखने के लिए डाउनिंग स्ट्रीट ब्रीफिंग में उपस्थित हुए।

इस दौरान उन्होंने आगाह किया कि अगर आगे प्रतिबंध नहीं लगाए जाते हैं तो देश में अक्टूबर के मध्य तक हर रोज कोरोना वायरस संक्रमण के 50 हजार मामले सामने आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि बीमारी की दर ‘‘गलत दिशा” में जा रही है और उम्मीद है कि सरकार महामारी पर नियंत्रण के लिए नए कदमों की घोषणा करेगी। उनकी चेतावनी से सख्त लॉकडाउन (Lockdown) की अनिवार्यता का संकेत मिलता है। शीर्ष चिकित्सा सलाहकार ने कहा कि हफ्तों से संक्रमण दर में बढ़ोतरी के बाद ‘‘हम बेहद बुरे पड़ाव पर पहुंच गए हैं।”

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने सप्ताहांत में मंत्रियों के साथ चर्चा की कि संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार क्या कदम उठाए। इस हफ्ते सरकार द्वारा कुछ प्रतिबंधों की घोषणा किए जाने की उम्मीद है जो इस बीमारी की गति को रोकने के लिए अवरोधक के तौर पर काम करेंगे।