CPC annual meeting, expected to be discussed about the political situation created after the US election
File

बीजिंग: चीन (China) की सत्तारूढ़ कम्यूनिस्ट पार्टी की सोमवार को चार दिवसीय वार्षिक बैठक (Annual Meeting) शुरू हो गई जिसमें देश के समक्ष चुनौतियों तथा वर्ष 2021-2025 के लिए 14वीं पंचवर्षीय योजना से संबंधित प्रस्तावों पर चर्चा होगी। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (Communist Party of China) (सीपीसी) (CPC) की बैठक में 2035 तक के दीर्घकालिक उद्देश्यों पर भी विमर्श किया जाएगा।

सीपीसी की 19वीं केंद्रीय समिति ने यहां अपने पांचवें पूर्ण सत्र की शुरुआत की। पार्टी और सरकार की नीतियों की समीक्षा करने के लिए यह बैठक हर साल होती है। इसमें केंद्रीय समिति के 204 पूर्ण सदस्य और 172 वैकल्पिक सदस्य भाग ले रहे हैं। सीपीसी के महासचिव एवं चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग (Xi Jingping) ने इस दौरान पार्टी के पोलित ब्यूरो की ओर से एक कार्य रिपोर्ट पेश की।

शिन्हुआ ने कहा कि इस रिपोर्ट में 14वीं पंचवर्षीय योजना और 2035 तक के दीर्घकालिक उद्देश्यों पर प्रस्तावों का मसौदा दस्तावेज पढ़ा गया। बैठक का मुख्य एजेंडा भले ही अगली पंचवर्षीय योजना है, लेकिन इसमें तीन नवंबर को अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के बाद बनने वाली राजनीतिक स्थिति को लेकर भी चर्चा किए जाने की उम्मीद है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन (Joe Biden) दोनों ने ही अपने प्रचार अभियान में चीन के वुहान (Wuhan) शहर से उत्पन्न कोरोना वायरस (Corona Virus) का काफी जिक्र किया है। कोरोना वायरस के प्रसार को लेकर दुनियाभर में चीन की बदनामी हो रही है जो विश्व में दस लाख से अधिक लोगों की जान ले चुका है।

ऐसा माना जा रहा है कि चुनाव के बाद ट्रंप या बाइडेन में से जो भी अमेरिका राष्ट्रपति बनेगा, वह चीन को लेकर कड़ा रुख ही अपनाएगा। सीपीसी की यह बैठक 29 अक्टूबर तक चलेगी।