Death toll in train accident in Pakistan rises to 62, Opposition demands full investigation of Imran Khan government
Image: Twitter

    कराची: पाकिस्तान (Pakistan) के सिंध प्रांत में सोमवार को हुई ट्रेन दुर्घटना (Train Accident) में मरने वालों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 62 हो गई। विपक्षी दलों (Opposition Parties) ने मांग की है कि, देश में हुए भीषण ट्रेन हादसों में से एक इस हादसे की वजह का पता लगाने के लिए तुरंत जांच की जाए। उल्लेखनीय है कि, सोमवार को कराची से सरगोधा जा रही ‘मिल्लत एक्सप्रेस’ पटरी से उतर गई थी और सामने वाली पटरियों पर गिर गई जिससे रावलपिंडी से कराची आ रही ‘सर सैयद एक्सप्रेस’ उससे टकरा गई।

    टक्कर के कारण मिल्लत एक्सप्रेस की बोगियां पलट गईं। यह हादसा सिंध के घोटकी जिले के ढरकी शहर के निकट हुआ। एआरवाई न्यूज के मुताबिक इस हादसे में कम से कम 62 लोगों की मौत हो गई तथा 100 अन्य घायल हो गए। जिया न्यूज ने सुक्कुर में रेलवे के संभागीय अधीक्षक तारीक लतीफ के हवाले से बताया कि राहत अभियान पूरा हो चुका है तथा पटरियों को भी साफ किया जा चुका है। इस हादसे में 17 बोगियां क्षतिग्रस्त हुई थीं, उन्हें तथा इंजिन को पटरियों से हटा लिया गया है।

    उन्होंने कहा, ‘‘हमें रेल सेवाओं को बहाल करने के आदेश मिले हैं।” रेलवे मंत्री आजम स्वाति ने कहा कि सुक्कुर संभाग में रेल की पटरियां खस्ताहाल हैं। उन्होंने विस्तृत जांच के आदेश देते हुए कहा, ‘‘हमें इस हादसे के लिए जिम्मेदार व्यक्ति का पता लगाना होगा।”

    पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने रेल हादसे की तत्काल जांच की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि 2018 में जब से इमरान खान की सरकार सत्ता में आई है तब से रेल हादसे भी अधिक हो रहे हैं। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज, जमायत उलेमा ए इस्लाम फजल समेत कई विपक्षी दलों ने इस हादसे पर संसदीय बहस की मांग की।