Despite China's opposition, US begins strong ties with Taiwan, digital meeting held

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में अमेरिकी राजदूत (US Ambassador) केली क्राफ्ट (Kelly Craft) की ताइवान (Taiwan) की प्रस्तावित यात्रा रद्द हो गयी है लेकिन उन्होंने बुधवार रात ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन से डिजिटल माध्यम से बातचीत की और उनसे कहा कि अमेरिका (America) हमेशा ताइवान (Taiwan) के साथ खड़ा रहेगा।

क्राफ्ट अगले सप्ताह राष्ट्रपति के साथ पद छोड़ेंगी, लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई कि वह जल्द स्वशासित द्वीपीय देश का भ्रमण करेंगी। उन्होंने ताइवान को विज्ञान, प्रौद्योगिकी और लोकतंत्र के लिए प्रकाशपुंज कहा।

पिछले सप्ताह घोषणा की गयी थी कि क्राफ्ट ताइवान की यात्रा करेंगी जिसके बाद बीजिंग ने आलोचना की थी और चेतावनी दी थी कि अमेरिका को ‘उसके कृत्यों के लिए भारी कीमत चुकानी पड़ेगी’।

चीन (China) ताइवान को अपने से अलग हुआ प्रांत करार देता है और उसने इस द्वीपीय क्षेत्र को अपने नियंत्रण में लाने की धमकियां तेज कर दी हैं। निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासनकाल में ताइवान के साथ अमेरिका के रिश्ते प्रगाढ़ हुए हैं।