फुटबॉलर माराडोना की मौत के मामले में एक और चिकित्सक के कार्यालय पर छापेमारी

ब्यूनस आयर्स (अर्जेंटीना). फुटबॉलर डिएगो माराडोना (Diego Maradona) की मौत के मामले में अर्जेंटीना (Argentina) में मंगलवार को भी पुलिस की जांच जारी रही। पुलिस ने माराडोना का इलाज कर चुकी एक चिकित्सक के आवास और कार्यालय पर छापेमारी की और चिकित्सकीय लापरवाही के पहलू की छानबीन की। सेन इसिड्रो के अटॉर्नी जनरल (Attorney general’s office of San Isidro) कार्यालय के आदेश के बाद पुलिस अधिकारी ब्यूनस आयर्स में चिकित्सक अगस्टिना कोसचोव के कार्यालय में जांच के लिए पहुंचे। पुलिस की एक टीम चिकित्सक के आवास पर भी गयी।

मनोचिकित्सक वादिम मिश्चानचुक ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘अभियोजकों ने मुझे बताया कि कोसचोव के चिकित्सकीय अतीत को खंगाला जा रहा है। यह एक नियमित प्रक्रिया है क्योंकि किसी मरीज की मौत के मामले में उसके चिकित्सकीय अतीत की भी जांच की जाती है। ” कोसचोव उस चिकित्सा टीम का हिस्सा थीं, जिन्होंने नवंबर में मस्तिष्क की सर्जरी के बाद माराडोना का उपचार किया था। माराडोना का दिल का दौरा पड़ने से बुधवार को ब्यूनस आयर्स में निधन हो गया। माराडोना के निधन से अर्जेंटीना और दुनियाभर में उनके प्रशंसकों को गहरा धक्का लगा है।

जांच अधिकारियों ने कहा कि माराडोना की मौत के मामले में हिंसा का कोई पहलू नहीं है लेकिन चिकित्सकीय लापरवाही को लेकर जांच की जा रही है। अपने वकील के जरिए कोसचोव ने एक बयान में कहा, ‘‘मैंने चिकित्सा संबंधी जो भी फैसले लिए थे उसको लेकर मुझे कोई अफसोस नहीं है।” पुलिस न्यूरोसर्जन लियोपोल्डो ल्यूक की भूमिका की भी जांच कर रही । ल्यूक ने हालिया महीनों में माराडोना का उपचार किया था और नवंबर में मस्तिष्क की सर्जरी करने वाले चिकित्सकों की दल में भी वह शामिल थे। जांच अधिकारियों ने रविवार को ल्यूक के आवास और कार्यालय पर भी छापेमारी की थी।(एजेंसी)