डोनाल्ड ट्रंप ने स्मारकों के संरक्षण के लिए ‘सख्त’ शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए

वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने देश में नस्लवाद को लेकर ताजा बहस के बीच प्रतिमाओं और स्मारकों को संरक्षित रखने के मकसद से एक शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। प्रदर्शनकारियों ने ऐसे कई व्यक्तियों की प्रतिमाओं और स्मारकों पर हमले किए हैं जिन्हें वे नस्लवाद का जिम्मेदार मानते हैं। ट्रंप ने इस हफ्ते की शुरुआत में तब कार्रवाई का आश्वासन दिया था जब प्रदर्शनकारियों ने व्हाइट हाउस के सामने एक पार्क में एंड्र्यू जैकसन की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने की कोशिश की थी। शुक्रवार के इस आदेश में किसी भी प्रकार की हिंसा और अवैध गतिविधि को भड़काने वाले व्यक्ति के खिलाफ अधिकतम सजा का प्रावधान किया गया है और स्मारकों को बचाने में विफल रहने वाली स्थानीय कानून प्रवर्तन एजेंसियों को चेतावनी दी गई है।

ट्रंप ने ट्विटर पर शुक्रवार को घोषणा की कि उन्होंने ‘सख्त’ आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे पहले, राष्ट्रपति ने ट्विटर पर पोस्ट लिखकर लेफयेट पार्क में जैकसन की प्रतिमा को गिराने की कोशिश में शामिल प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी का आह्वान किया था। उन्होंने एफबीआई की ओर से जारी वांछित व्यक्तियों के एक पोस्टर को री-ट्वीट किया था जिसमें उन 15 प्रदर्शनकारियों की तस्वीर थी जो “संघीय संपत्ति के नुकसान” के आरोप में वांछित हैं। गौरतलब है कि प्रदर्शनकारियों ने सोमवार की रात जैकसन की प्रतिमा को रस्सियों के जरिए गिराने की कोशिश की। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़कर लेफयेट पार्क को सील कर दिया था।(एजेंसी)