Biden, Harris's Indian-American supporters, said "Trump is 'enemy', criticizing India on global stage"

वॉशिंगटन. इस सनसनीखेज खुलासे से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की छवि उच्च तबके के वोटरों में खराब हो सकती है कि जिस वर्ष पहली बार उन्होंने राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ा उस वर्ष महज 750 डॉलर का कर (Tax) भुगतान किया, जबकि कई वर्षों तक उन्होंने कर नहीं दिए। इस खुलासे से पहले राष्ट्रपति बहस की पूर्व संध्या पर उनके डेमोक्रेट प्रतिद्वंद्वी को बढ़त मिल सकती है। ट्रम्प ने सफल व्यवसायी बनने के लिए दशकों तक मेहनत की और अपनी गुप्त सेवा का कूट नाम ‘‘मुगल” रखा।

लेकिन रविवार को न्यूयॉर्क टाइम्स ने खुलासा किया कि 2016 में जब उन्होंने राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की उस वर्ष उन्होंने महज 750 डॉलर का संघीय आयकर दिया। उन्होंने पिछले 15 वर्षों में दस वर्ष या अधिक समय तक कोई आयकर नहीं दिया और इसका कारण उन्होंने बताया कि कमाने से ज्यादा उन्हें धन का नुकसान हुआ है। यह खुलासा ऐसे वक्त हुआ है जब उन पर आरोप लग रहे हैं कि उन्होंने महामारी से ठीक तरीके से नहीं निपटा। इससे मंगलवार को होने वाले बहस में बाइडेन उन पर आसानी से हमला कर सकते हैं और जब प्रचार के लिए महज एक महीने का वक्त बचा है तो ट्रम्प के लिए कई मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं।'(एजेंसी)