यूरोप में बाढ़ का तांडव: बेल्जियम,जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड में बारिश से  भारी तबाही, 180 लोगों की मौत

    बर्लिन: जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग का असर अब पूरी दुनिया में नजर आ रहा है। कई देश में लोग उमस से परेशान है, तो कई लोगों को बाढ़ का सामना करना पड़ रहा है। वहीँ  यूरोप में जलवायु परिवर्तन का प्रभाव दिख रहा है। यूरोप के  कई देश में भीषण बाढ़  के कारण लोग परेशान है। इसका असर बेल्जियम, नीदरलैंड, जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड इन देशों में काफी ज्यादा दिख रहा है। 

    निरंतर चल रही बारिश के कारन अभी तक इन देशों में आई बाढ़ से रविवार तक 180 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। वहीँ 1500 से अधिक लोग लापता होने की आशंका जताई जा रही है। हजारों घर तहस नहस हो गए है। बाढ़ की वजह से कई  लोग बेघर हो गए। सभी लोग बाढ़  से बचने के लिए अपनी सुरक्षा में  लगे हुए है। 

    कई नदिया अपनी प्रवाह बदलकर दूसरी दिशाएं  में बहती दिख रही है। जर्मनी के मौसम विभाग के प्रवक्ता उवे किर्सचे ने बताया कि 1000 साल में ऐसा पहले कभी नहीं देखा गया।पश्चिमी जर्मनी के राइनलैंड पेलेटिनेट राज्य में इसक सबसे ज्यादा असर पड़ा है। राज्य  110 लोगों की मौत हो गई है।

    वही सबसे ज्यादा  आबादी वाले उत्तरी राइन वेस्टफेलिया राज्य में 45 लोगों की मौत हुई है। बेल्जियम में 27 लोगों  की मौत हुई है। बाढ़  में मरनेवाले लोगों में अग्निशमन दल  के कर्मचारी भी  है। वही जर्मिनी की चांसलर एंजेला मर्केल बाढ़ से प्रभावित हुए राज्य का दौरा कर रही है।