Five lakh devotees visited Nepal's Pashupatinath temple on the occasion of Mahashivaratri, such was the arrangement during the Corona period
Photo: Facebook/Worldwide Hindu Temples

    काठमांडू: महाशिवरात्रि (Mahashivratri) के मौके पर नेपाल (Nepal) के काठमांडू (Kathmandu) में स्थित पशुपतिनाथ मंदिर (Pashupatinath Temple) में हजारों भारतीयों (Indian) समेत पांच लाख से अधिक श्रद्धालुओं (Devotees) ने दर्शन किए। मंदिर के एक अधिकारी ने बताया कि श्रद्धालुओं का प्रबंधन कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत किया गया। श्रद्धालुओं को कतार में भी एक-दूसरे से दूर-दूर खड़ा किया गया, मास्क लगाने और हाथों को सैनेटाइज़ करने को अनिवार्य किया गया।

    अधिकारी ने बताया कि इंतजाम इस तरह से किए गए कि श्रद्धालु आधे घंटे के अंदर ही देवता के दर्शन कर लें। बड़ी संख्या में आए श्रद्धालुओं को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा के कड़े उपाय किए गए थे। अधिकारियों ने कहा कि मंदिर के द्वार सुबह चार बजे खोल दिए गए थे और शाम तक करीब पांच लाख श्रद्धालु आए। मंदिर में देर रात तक श्रद्धालु दर्शन करने आएंगे जिससे संख्या में इजाफा होगा।

    मंदिर में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओ में ज्यादातर नेपाल और भारत के हिंदू थे। अधिकारी ने बताया कि इस मौके पर भारत से आए साधुओं के लिए प्रसादम और उनके ठहरने की व्यवस्था की गई।

    पशुपतिनाथ मंदिर नेपाल का सबसे बड़ा मंदिर परिसर है। इसके दोनों ओर बागमति नदी है और मंदिर में रोजाना नेपाल तथा भारत से हजारों श्रद्धालु आते हैं। कोविड-19 के कारण मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश पिछले साल करीब नौ महीने तक बंद रहा। मंदिर को दिसंबर में फिर से खोला गया है।