Protesters have not left Mahatma Gandhi's statue as well: Trump

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने गुरुवार को घोषणा की है कि इजराइल (Israel) और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) (United Arab Emirates) ने राजनयिक संबंधों को फिर से स्थापित करने और अपने संबंधों के “पूर्ण सामान्यीकरण” पर सहमति व्यक्त की है। वाइट हाउस द्वारा जारी, तीनों देशों के एक जॉइंट स्टेमेंट में कहा गया है कि, “यह एक ऐतिहासिक राजनयिक सफलता है जो मिडिल ईस्ट में शांति को आगे बढ़ाएगी और तीन नेताओं की साहसिक कूटनीति और दृष्टि है जो संयुक्त अरब अमीरात और इजरायल के साहस के लिए एक वसीयतनामा है जो इस क्षेत्र की महान क्षमता को उजागर करेगा।”

बयान में उल्लिखित नेताओं में राष्ट्रपति ट्रम्प, इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) और यूएई के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद (Sheikh Mohammed bin Zayed) हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार ट्रंप ने कहा, “यह वास्तव में एक ऐतिहासिक क्षण है, मुझे उम्मीद है कि अरब और मुस्लिम देश संयुक्त अरब अमीरात का फॉलो करेंगे।”

बयान में आगे कहा गया है, यूएई और इज़राइल भविष्य में व्हाइट हाउस में एक समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे, और अगले कुछ हफ्तों में अन्य समझौतों के साथ पारस्परिक रूप से, निवेश, पर्यटन, डायरेक्ट फ्लाइट, सुरक्षा, दूरसंचार, प्रौद्योगिकी स्वास्थ्य सेवा और संस्कृति के साथ साथ अपने देशों में एम्बेसी खोने पर भी समझौते करेंगे।