भारत ने पाकिस्तान को फिर दिखाया आईना, कहा- पाकिस्तान भारत के आंतरिक मसले में दखल देकर अंतरराष्ट्रीय बिरादरी का ध्यान भटकाना मकसद

जीनेवा: मानवधिकार (Human Rights) के मुद्दे पर भारत (India) ने एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को लताड़ लगाई है. स्विट्ज़रलैंड के जीनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (United Nation Human Rights Council) (UNHRC) की बैठक में गुरुवार को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रथम सचिव विमर्ष आर्यन ने पाकिस्तान को जवाब देते हुए कहा, “पाकिस्तान भारत के आंतरिक मसले में दखल देकर अंतरराष्ट्रीय बिरादरी का ध्यान भटकाना चाहता.”

विमर्ष आर्यन ने कहा, “इस परिषद के सदस्य के रूप में पाक का एकमात्र उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान अपने लोगों के खिलाफ, और उसके कब्जे वाले भारतीय क्षेत्रों में, उसके द्वारा किए गए गंभीर मानवाधिकारों के उल्लंघन से भटकाना है.”

 
प्रथम सचिव ने कहा, “इस महामारी के दौरान, जब हर कोई साथी मनुष्यों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए एक मास्क लगा रहा है, दुर्भाग्यवश पाक मानवाधिकार का चैंपियन बनने के लिए एक अलग तरह का मास्क का इस्तेमाल कर रहा, जो खुद अपने यहां के अल्पसंख्यकों के यातना और सताकर उसका उल्लंघन करता है. “
 
चीन के बेल्ट एंड रोड परियोजना को अवैध घोषित करे
संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पीओके के राजनीतिक कार्यकर्ता डॉ. अमजद-ए-मिर्जा ने कहा, “संयुक्त राष्ट्र द्वारा पाक और चीन के बीच सभी बेल्ट एंड रोड पहल परियोजनाओं को अवैध घोषित किया जाना चाहिए. आज हम गिलगित बाल्टिस्तान के दोहरे उपनिवेशण के साथ सामना कर रहे हैं क्योंकि चीन इस पहल के तहत पाक में शामिल होता है.”