India will help Nepal in fighting Corona, will give 10 lakh doses of Covid-19 vaccine

काठमांडू: नेपाल (Nepal) के स्वास्थ्य एवं जनसंख्या मामलों के मंत्री ने बुधवार को यहां कहा कि भारत (India) अनुदान सहायता के तौर पर पड़ोसी देश को कोविड-19 टीके (Covid-19 Vaccine) की 10 लाख खुराक उपलब्ध कराएगा। मंत्री हृदयेश त्रिपाठी के मुताबिक टीके की पहली खेप बृहस्पतिवार को रवाना की जाएगी।

संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत ने अनुदान सहायता के तहत नेपाल को कोविड-19 टीके की 10 लाख खुराक उपलब्ध कराई है। मंत्री के मुताबिक पहले चरण में टीका कोरोना वायरस (Corona Virus) के खिलाफ अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्यकर्मियों, कर्मचारियों व सुरक्षाकर्मियों को लगाया जाएगा। नेपाल ने पिछले हफ्ते सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका (Oxford-AstraZeneca) के कोविशील्ड टीके (Covishield Vaccine) के इस्तेमाल को लेकर सशर्त इजाजत दे दी थी।

त्रिपाठी ने अनुदान सहायता के लिये भारत का शुक्रिया अदा किया और उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में नेपाल की जरूरत के मुताबिक और टीकों की खरीद में भी उसे पड़ोसी देश से मदद मिलेगी। नेपाल में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 2,68, 310 है जबकि यहां 1975 लोग महामारी से अपनी जान गंवा चुके हैं।

भारत ने मंगलवार को कहा था कि वह भूटान (Bhutan), मालदीव (Maldives), बांग्लादेश (Bangladesh), नेपाल (Nepal), म्यामां (Myanmar) और सेशल्स को बुधवार से अनुदान सहायता के तौर पर कोविड-19 के टीके भेजेगा जबकि श्रीलंका (Sri Lanka), अफगानिस्तान (Afghanistan) और मॉरीशस (Mauritius) के लिये जरूरी नियामक मंजूरी मिलने के बाद आपूर्ति शुरू की जाएगी। भारत की “पड़ोसी प्रथम” नीति के तहत अनुदान सहायता के तौर पर कोविड-19 टीका प्राप्त करने वाले भूटान और मालदीव पहले राष्ट्र बने।