भारतीय-अमेरिकी डॉक्टरों ने गुरूद्वारे में COVID-19 मरीजों को कराया भोजन

वाशिंगटन. अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन में और उसके आसपास भारतीय-अमेरिकी डॉक्टरों ने एक प्रतिष्ठित गुरुद्वारे के साथ मिलकर कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से प्रभावित लोगों को भोजन उपलब्ध कराने का अभियान शुरू किया है। ‘द ग्रेटर वाशिंगटन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडियन ऑरिजिन’ तथा प्रतिष्ठित मैरीलैंड गुरुद्वारे ‘गुरु नानक फाउंडेशन ऑफ अमेरिका’ ने सप्ताहांत पर अपना पहला अभियान चलाते हुए कोविड-19 वैश्विक महामारी से प्रभावित 350 से अधिक परिवारों को भोजन उपलब्ध कराया।

वाशिंगटन डीसी के मैरीलैंड और वर्जीनिया उपनगर अब भी कोरोना वायरस से काफी प्रभावित हैं। एक मीडिया विज्ञप्ति में बुधवार को कहा गया कि कोविड-19 के इस मुश्किल दौर में जब लाखों अमेरिकियों ने नौकरियां गंवा दी है तो कई भारतीय-अमेरिकी संस्थाओं ने एक साथ आकर और स्कूलों, सामुदायिक कॉलेजों, मंदिरों और गुरुद्वारों में भोजन उपलब्ध कराने के कई अभियान चलाने के लिए निधि जुटाकर अभूतपूर्व एकता का प्रदर्शन किया है। इस एसोसिएशन और गुरुद्वारे को कई भारतीय-अमेरिकी संगठनों का समर्थन हासिल है। एसोसिएशन ने उन सैकड़ों मरीजों की मदद का जिम्मा भी उठाया है जो कोविड-19 के कारण भारत नहीं लौट पाए और दवाइयां खरीदने में समर्थ नहीं हैं।(एजेंसी)