Indian American woman sentenced to 15 years for forcible extra work
Representative Picture

सिंगापुर: सिंगापुर (Singapore) में एक कानूनी सेवा प्रदाता कंपनी में कार्यरत भारतीय मूल (Indian Origin) के एक वकील (Lawyer) को मुवक्किलों से मिले शुल्क के गबन के मामले में सोमवार को दो साल तीन महीने कैद की सजा सुनाई गई। इस वकील ने कंपनी के मुवक्किलों से 31 हजार सिंगापुरी डॉलर (तकरीबन 16 लाख 63 हजार रूपये) वसूले और उन्हें कंपनी के खाते में जमा करने की जगह अपने निजी बैंक खाते में हस्तांतरित कर दिया।

स्ट्रेट टाइम्स की खबर के अनुसार 57 वर्षीय वकील जमिंदर सिंह गिल 2016 से 2019 तक ‘हिलबॉर्न लॉ’ नाम की कंपनी में कानूनी सहायक था। उसने कंपनी के साथ मुवक्किलों का पंजीकरण भी नहीं कराया।

रिपोर्ट में कहा गया कि उसने मुवक्किलों से मिली शुल्क राशि को अपने निजी बैंक खाते में जमा कराया और इसे अपने परिवार के लिए खर्च किया। कंपनी के एक प्रतिनिधि ने एक मुवक्किल से शिकायत मिलने के बाद गिल के खिलाफ पिछले साल 18 जुलाई को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। गिल को आज इस मामले में अदालत ने दो साल तीन महीने कैद की सजा सुनाई।