Israeli experts unearthed ancient Jewish religious manuscripts hidden 1900 years ago

    यरूशलम: इजराइली पुरातत्व (Israeli Archaeologists) विज्ञानियों ने एक रेगिस्तानी (Desert) गुफा (Cave) में दर्जनों प्राचीन यहूदी (Jewish) धार्मिक पांडुलिपियों के अंश की खोज करने की मंगलवार को घोषणा की। माना जाता है कि करीब 1900 साल पहले रोम के खिलाफ हुए यहूदी विद्रोह के दौरान इन्हें छिपाया गया था। प्राचीन वस्तु प्राधिकार के मुताबिक इन पांडुलिपियों पर बाइबिल संबंधी यूनानी भाषा में शब्द लिखे हुए हैं। रेडियो कार्बन पद्धति से इसके दूसरी सदी के होने का पता चला है। 

    यरूशलम के दक्षिणी हिस्से में स्थित रेगिस्तान में पुरातात्विक खुदाई के दौरान पिछले 60 साल में मिली यह प्रथम पांडुलिपियां हैं। समझा जाता है कि यह ‘द केव ऑफ हॉरर’ (खौफनाक गुफा) स्थल पर पाये गये चर्म पत्र लेखों से संबद्ध है।

    उन पर 40 लोगों के नाम दर्ज हैं, जिनके नर कंकाल 1960 के दशक के दौरान खुदाई में मिले थे। यह गुफा यरूशलम के दक्षिण में स्थित जूडियन रेगिस्तान के खड्ड में स्थित है।