Johnson & Johnson closed the Corona vaccine trial

मुंबई: विश्व भर में कोरोना (Corona) संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। कोरोना मामले दुनिया भर में अब 3.80 करोड़ के करीब पहुंचे गए हैं। कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की खोज के लिए कई देशों में ट्रायल और रिसर्च भी चल रहा है। लेकिन इस बीच, जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson) ने कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को फिलहाल रोक दिया है। 

जॉनसन एंड जॉनसन ने कहा है कि वह कोरोना वैक्सीन के ट्रायल को अस्थायी रूप से रोक रहा है क्योंकि उसके प्रतिभागियों में से एक व्यक्ति बीमार हो गया है। कंपनी ने कहा है कि फिलहाल वो सभी तरह के ट्रायल रोक रहे हैं। इसमें फेस 3 ट्रायल भी शामिल है। ट्रायल में हिस्सा ले रहे एक कैंडिडेट में बीमारी के लक्षण पाए गए हैं। अब कंपनी इसकी जांच कर रही है। अचानक से हुई इस रोक का मतलब है कि कई मरीज़ों के क्लीनिकल ट्रायल के लिए ऑनलाइन नामांकन प्रणाली को बंद कर दिया गया है। 

फाइजर ने वैक्सीन अध्ययन के प्रोटोकॉल में संशोधन किया

दवा कंपनी फाइजर (Pfizer) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के अपने टीके (Vaccine) संबंधी अध्ययन के प्रोटोकॉल में फिर से संशोधन करके इसमें और युवा प्रतिभागियों को शामिल किया है। कंपनी ने सोमवार को बताया कि उसने कोविड-19 के टीके संबंधी अपने वैश्विक अध्ययन में 12 से 15 साल के किशोरों को शामिल करने के लिए ‘फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन’ से अनुमति प्राप्त कर ली है। न्यूयॉर्क स्थित फाइजर ने अध्ययन में शुरुआत में 30,000 प्रतिभागियों को शामिल करने की योजना बनाई थी, लेकिन सितंबर में प्रतिभागियों की संख्या बढ़ाकर 44,000 कर दी गई।

दुनिया के 180 से ज्यादा देश कोरोना की चपेट में, वैक्सीन का इंतज़ार   

दुनिया भर के 180 से ज्यादा देशों को कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल तादाद लगभग 3.80 करोड़ पहुंच गई है। अब तक करीब 2.60 करोड़ से ज्यादा मरीज़ कोरोना को मात दे चुके हैं। वहीं 10.76 लाख से ज़्यादा लोग इस वायरस की वजह से मौत हुई है। 

कैसे जारी है कोरोना से जंग

ब्रिटेन– 

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए सरकार ने नई योजना तैयार की है। इसके लिए तीन लेयर वाला एक नया फॉर्म्युला तैयार किया गया है। जिसमें मीडियम, हाई और वेरी हाई कैटेगरी में बांटा गया है।

क्यूबा-

देश में अब तक एक लाख 20 हजार से अधिक कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आये हैं और 2,490 से अधिक लोगों की इससे मौत हो चुकी है। क्यूबा ने महामारी के कारण सात महीने बाद प्रतिबंधों में ढील दी है। यह कदम सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने की आशा के साथ क्यूबा ने कोरोना वायरस महामारी के कारण जारी प्रतिबंधों में सोमवार को छूट देने की घोषणा की । इस छूट के साथ दूकानों एवं सरकारी कार्यालयों को खोलने की अनुमति मिल गयी है और राजधानी हवाना को छोड़कर पूरे द्वीप में स्थानीय लोगों एवं पर्यटकों का स्वागत किया गया है । चेहरे पर मास्क लगाना और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करना अब भी अनिवार्य है। हालांकि अधिकारी अब कोरोना के लिहाज से संदिग्ध लोगों के संपर्क में आने वालों को पृथक नहीं करेंगे क्योंकि देश में स्थिति अब धीरे-धीरे सामान्य हो रही है ।

फ्रांस

रिपोर्ट्स के अनुसार, फ्रांस की हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा है कि सभी तरह के होटल, रेस्टोरेंट्स और बार बंद किए जाएंगे। इस मामले में किसी तरह की राहत नहीं दी जाएगी। सरकार डब्ल्यूएचओ के भी संपर्क में है ताकि एक्सपर्ट्स की सलाह ली जा सकती। खबर है कि फ्रांस आनेवाले दिनों में कोरोना को लेकर नई रिस्ट्रिक्शन्स जारी कर सकता है। 

इटली-

Italy

सरकार ने शादियों और अंतिम संस्कार के लिए नए प्रतिबंधों की तैयारी है। वहीं पार्टी या फिर सम्मलेन में आनेवाले लोगों के भी रिकॉर्ड ऑर्गनाइज़र को रखने के लिए कहा गया है। अन्य देशों की तरह मास्क को सोशल डिस्टेंसिंग पर सरकार पूरी तरह से ज़ोर दे रही है। सरकार ने कहा है कि, पाबंदियों के चलते कुछ देर की परेशानी हो सकती है लेकिन आखिर में हम सबको सुरक्षित रखने में कामयाब होंगे।