खशोगी हत्या से जुड़े ‘टेप’ के संबंध में और जानकारी मुहैया कराए अमेरिका: न्यायाधीश

न्यूयॉर्क. अमेरिका के एक न्यायाधीश  (Judge) ने कहा कि अमेरिकी सरकार को सऊदी शासन के आलोचक रहे पत्रकार जमाल खशोगी (Jamal Khashoggi) की हत्या से जुड़े एक टेप और उनकी मौत पर सीआईए की रिपोर्ट से जुड़ी और जानकारियां सार्वजनिक करनी चाहिए। यूएस डिस्ट्रिक्ट जज पॉल ए. एंगलमेयर (Paul A Engelmayer) ने मंगलवार को कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, उपराष्ट्रपति माइक पेंस और ‘सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी’ (सीआईए) के प्रमुख सहित अन्य ने सार्वजनिक बयानों में स्पष्ट कहा है कि ये चीजें मौजूद हैं।

अक्टूबर 2018 में तुर्की स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में खशोगी की हत्या कर दी गई थी। एंगलमेयर ने अपने फैसले में कहा कि मामला अभी शुरुआती चरण में है और चीजों के बारे में आप कम जानकारी उपलब्ध कराते हैं, तो अमेरिका या उसकी एजेंसियों के खुफिया सूत्रों की विदेशी संबंधों से जुड़ी ‘‘ वह जानकारी उजागर नहीं होगी, जो अभी तक सामने नहीं आई” है। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने स्पष्ट रूप से यह स्वीकार किया था कि अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने टेप की समीक्षा की थी और वह अमेरिकी सरकार के पास है। अमेरिकी न्याय मंत्रालय को भेजे एक संदेश में उन्होंने कहा कि पेंस ने भी यह स्वीकार किया था कि सीआईए के पास जांच के समय ‘टेप’ था। ‘जस्टिस इनिशिएटिव’ के वकील अमृत सिंह ने कहा, ‘‘ आज का अदालत का आदेश जमाल खशोगी की हत्या से जुड़े तथ्य छुपाने के ट्रंप प्रशासन के शर्मनाक प्रयास के खिलाफ एक बड़ी जीत है।” (एजेंसी)