Mehul Choksi Updates: Antigua Prime Minister Gaston Brown said on Mehul Choksi's allegation of 'kidnapping', said- Police started investigation in the matter

    नई दिल्ली: एंटीगुआ एवं बारबुडा (Antigua and Barbuda) की ‘रॉयल पुलिस फोर्स’ (Royal Police Force) ने भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) का कथित तौर पर अपहरण कर उसे डोमिनिका (Dominica) ले जाए जाने के मामले में जांच शुरू कर दी है। चोकसी के वकीलों ने इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई है।

    ‘एंटीगुआ न्यूज रूम’ की खबर के अनुसार, एंटीगुआ एवं बारबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने कहा कि चोकसी के वकीलों ने पुलिस आयुक्त को दी गई शिकायत में कथित अपहरण में शामिल लोगों के नाम भी बताए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर ये दावे सच हैं तो फिर यह एक गंभीर मामला है। ब्राउन ने कहा, ‘‘ चोकसी ने एंटिगुआ एवं बारबुडा की रॉयल पुलिस फोर्स में शिकायत दर्ज कराई है कि उसका अपहरण किया गया। उसने अपने वकीलों के माध्यम से एक औपचारिक दावा किया कि उसे एंटीगुआ से अगवा कर डोमिनिका ले जाया गया। पुलिस इस शिकायत को गंभीरता से ले रही है और अपहरण के मामले की जांच कर रही है।”

    वहीं ‘एसोसिएट्स टाइम्स’ ने अपनी खबर में डोमिनिका के विपक्षी नेता लेनोक्स लिंटन की उस बात पर शंका जाहिर की कि चोकसी को आर्नी की यॉच कैलीओप में 23 मई को रात 10 बजे डोमिनिका लाया गया था। खबर के अनुसार, चोकसी के परिवार ने दावा किया है कि वह 23 मई शाम पांच बजे तक एंटीगुआ में थे और चार-पांच घंटे में 120 मील की दूरी तय करना मुमकिन नहीं है, क्योंकि इसमें लगभग 12 से 13 घंटे लगते हैं। खबर में कहा गया कि सीमा शुल्क दस्तावेज़ के अनुसार, नौका 23 मई को सुबह 10 बजे एंटीगुआ से रवाना हुई जबकि चोकसी के घरेलू सहायक का कहना है कि वह शाम पांच बजे तक घर पर थे, जिससे स्पष्ट हैं कि लिंटन ने जिस नौका में उसके होने का दावा किया, वह उसमें नहीं थे।

    ‘डोमिनिका चाइना फ्रेंडशिप हॉस्पिटल’ के चिकित्सकों के हवाले से खबर में कहा गया कि जिन नाखून की चोट का वकीलों ने दावा किया है वह पुरानी है, बाकी चोटे नई हो सकती हैं जो ‘‘हल्का धक्का” दिए जाने से भी आ सकती हैं। चोकसी इसी अस्पताल में भर्ती है। गौरतलब है कि चोकसी 23 मई को रहस्यमयी परिस्थितियों में एंटीगुआ एवं बारबुडा से लापता हो गया था। 2018 से बतौर नागरिक वह वहां रह रहा था। लापता होने के बाद में उसे डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने पर पकड़ा गया था। चोकसी के वकीलों ने आरोप लगाया है कि एंटीगुआई और भारतीय जैसे दिखने वाले पुलिसकर्मियों ने उनके मुवक्किल का अपहरण कर लिया तथा उसे नौका के जरिए डोमिनिका पहुंचा दिया।

    डोमिनिका के एक उच्च न्यायालय में चोकसी की ओर से दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई चल रही है। याचिका में चोकसी ने अपनी कथित अवैध हिरासत को चुनौती दी है। उसे उच्च न्यायालय के आदेश पर एक मजिस्ट्रेट के समक्ष भी पेश किया गया, जहां उसने देश में अवैध प्रवेश के आरोपों को स्वीकार नहीं किया। उसे अभी मामले में जमानत नहीं मिली पाई है।

    चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) जांच कर रहा है।