Mehul Choksi moves Dominica High Court to quash proceedings

    लंदन: पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) (PNB) से जुड़े धन शोधन मामले (Money Laundering) और धोखाधड़ी (Cheating) के आरोपों का सामना कर रहे भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) के वकील माइकल पोलक ने उसके एंटीगुआ (Antigua) का नागरिक होने के नाते सोमवार को कैरीबियाई समुदाय (Caribbean Community) से कथित अपहरण के मामले में हस्तक्षेप करने की अपील की।

    लंदन में जस्टिस अब्रॉड के निदेशक पोलक ने चोकसी का मुद्दा उठाने के लिए कैरेबियाई समुदाय को इस संबंध में पत्र लिखा है। पोलक ने चोकसी के कथित अपहरण मामले में स्कॉटलैंड यार्ड से जांच का अनुरोध किया है। एंटीगुआ और बारबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने पिछले सप्ताह देश की संसद को स्पष्ट रूप से बताया था कि उन्हें ब्रिटेन की जांच एजेंसी से इस संबंध में कोई पत्र प्राप्त नहीं हुआ है। हालांकि पोलक ने दावा किया कि चोकसी (62) को एंटीगुआ में एक विला में बुलाया गया, फिर उसकी पिटाई की गई।

    उन्होंने दावा किया कि चोकसी को एक व्हीलचेयर से बांध दिया गया और फिर समुद्र के रास्ते डोमिनिका की ओर भेज दिया गया था, जो देश के कानून का उल्लंघन है और कैरीबियाई समुदाय के लिए एक बड़ी परीक्षा है। लंदन के वकील पोलक ने कहा कि चोकसी को एंटीगुआ से अपहरण करके डोमिनिका ले जाए जाने की घटना ने कैरीबियाई देशों की ओर विश्व का ध्यान आकृष्ट किया और ‘‘हमने इस संगठन (कैरीबियाई देशों के संगठन कैरीकॉम) से इस मानवधिकार उल्लंघन के बारे में अब तक कुछ नहीं सुना है।”

    उन्होंने कहा कि संगठन के महासचिव इर्विन लारोस्क से मिलने के लिए एक अनुरोध किया गया है। गौरतलब है कि चोकसी डोमिनिका में अवैध रूप से प्रवेश करने के आरोपों का सामना कर रहा है और वह 30 मई से अस्पताल में भर्ती है।