Putin and Biden
AP Photo

    वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति जो. बाइडन (President Joe. Biden) ने कहा कि वह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (President Vladimir Putin) के समक्ष मानवाधिकार का मुद्दा उठाते रहेंगे क्योंकि यह मूल सिद्धांत है जिसके लिए उनका देश खड़ा हुआ है। पुतिन ने स्वीकार किया कि बाइडन ने उनके साथ मानवाधिकारों के मुद्दों को उठाया, जिसमें विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी का मुद्दा भी शामिल था।

    रूसी राष्ट्रपति ने नवलनी की कैद की सजा के निर्णय का बचाव किया और रूस के विपक्षी नेताओं के साथ दुर्व्यवहार को लेकर बार-बार पूछे जाने वाले सवालों पर अमेरिका में घरेलू उथल-पुथल का उल्लेख किया जिसमें ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ विरोध प्रदर्शन और छह जनवरी को कैपिटल में हुई हिंसा शामिल है। पुतिन ने कहा कि नवलनी जिसके हकदार थे उन्हें, वही मिला है।

    नवलनी पुतिन के सबसे प्रमुख राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी रहे हैं जिन्हें जर्मनी से रूस लौटने के बाद जनवरी में गिरफ्तार कर लिया गया था। रूस के विपक्षी नेता ने खुद को नर्व एजेंट जहर दिए जाने के बाद पांच महीने तक जर्मनी में इलाज कराया था। वह इस हमले के लिए रूसी प्रतिष्ठान क्रेमलिन को जिम्मेदार ठहराते हैं।

    हालांकि, रूसी अधिकारियों ने नवलनी को जहर देने में संलिप्तता से इनकार किया है। नवलनी को 2014 में गबन के एक मामले दोषी पाए जाने पर निलंबित सजा का उल्लंघन करने के मामले में 30 महीने कैद की सजा सुनाई गई है। उन्होंने गबन के मामले में संलिप्तता से इनकार करते हुए इसे राजनीति से प्रेरित बताया था। (एजेंसी)