America

वाशिंगटन. अमेरिका में एक नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि देश में कोविड-19 से जान गंवाने वालों में से एक तिहाई लोग नर्सिंग होम के रहने वाले हैं। यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है, जब पुलिस की बर्बरता के खिलाफ जारी प्रदर्शन के बावजूद अमेरिका में कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगे प्रतिबंधों में सोमवार को ढील दी गई। अमेरिका के सभी गवर्नर के लिए तैयार की गई एक रिपोर्ट में कहा गया कि नर्सिंग होम : देखभाल केन्द्रों : में रहने वाली करीब 26,000 लोगों की जान कोविड-19 से संक्रमित होने की वजह से गई है। इस आंकड़ें के अधिक होने की आशंका भी बनी हुई है।

समाचार एजेंसी ‘एपी’ को प्राप्त इस रिपोर्ट की प्रति के अनुसार ‘मेडिकेयर एंड मेडिकेड सर्विसेज सेंटर’ तथा रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केन्द्र का कहना है कि देखभाल केन्द्रों में करीब 60,000 कोरोना वायरस के मामले हैं। यह आंकड़ें देश के 15,400 देखभाल केन्द्रों में से 80 प्रतिशत से 24 मई तक मिली रिपोर्ट पर आधारित हैं। सीडीसी के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड और सीएमएस प्रशासक सीमा वर्मा ने कहा, ‘‘आंकड़ें और देशभर से मिली वास्तविक रिपोर्ट स्पष्ट रूप से दर्शाती है कि वायरस की वजह से देखभाल केन्द्रों की हालत खराब है।” अमेरिका में अभी तक कोरोना वायरस से 1,04,000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और करीब 18 लाख लोग इससे संक्रमित हैं। इस बीच, अमेरिका में अश्वेत व्यक्ति फ्लायड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं और ऐसे में भीड़ जुटने से संक्रमण के फैलने का खतरा बढ़ गया है। (एजेंसी)