Pakistani dissidents accuse army for many problems of the country

वाशिंगटन: पाकिस्तान (Pakistan) में अमेरिका (America) के अगले राजदूत बनने के लिए नामित अमेरिकी राजनयिक विलियम टॉड (William Todd) ने कहा कि पाकिस्तान को ‘लश्कर-ए-तैयबा’ (LeT) सहित अपनी सरजमीं पर सक्रिय सभी आतंकवादी संगठनों पर अत्यधिक दबाव बनाने की जरूरत है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने टॉड को पाकिस्तान में अमेरिका का अगला राजदूत बनाने के लिए नामित किया है।

टॉड ने मंगलवार को पद की मंजूरी के लिए की जा रही सुनवाई के दौरान अमेरिकी सांसदों से कहा, ‘‘ पाकिस्तान को उन तमाम आतंकवादी संगठनों पर अत्यधिक दबाव बनाने की जरूरत है, जो पाकिस्तान में सक्रिय हैं।” सीनेट की विदेशी संबंध समिति के सदस्य सीनेटर बॉब मेनडेज के एक सवाल के जवाब में टॉड ने कहा कि लश्कर ने पिछले कुछ वर्षों में आतंक की स्थिति उत्पन्न की है।

उन्होंने कहा, ‘‘ लश्कर के सरगना पर मुकदमा चलाने के लिए पाकिस्तान ने काफी मेहनत की। आतंकवादी संगठन के सरगना को करीब एक साल पहले जेल में डाला गया था। उसके 12 साथियों को भी जेल में डाला गया।”

टॉड ने कहा, ‘‘ अगर में इस पद के लिए चुना जाता हूं, तो पाकिस्तान पर आतंकवादियों के खिलाफ सतत, अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने का दबाव बनाता रहूंगा। मैं उनके साथ आतंकवाद वित्तपोषण के मामले पर भी काम करूंगा।”