Pence's former advisor Olivia Troye said Trump failed to tackle the corona virus, supported Biden

वाशिंगटन: अमेरिका (America) के उपराष्ट्रपति माइक पेंस (Mike Pence) की पूर्व सलाहकार और व्हाइट हाउस (White House) में कोरोना वायरस (Corona Virus) कार्यबल में जिम्मेदारी निभा चुकी ओलिविया ट्रोये (Olivia Troye) ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने एक बार कहा था कि कोविड-19 (Covid-19) कुछ मामलों में अच्छा है क्योंकि यह ‘घिनौने लोगों’ से उन्हें हाथ मिलाने से रोकता है।

उल्लेखनीय है कि ट्रम्प प्रशासन (Trump Administration) की हालिया सदस्य हैं जो राष्ट्रपति के खिलाफ सामने आई हैं और उन्होंने मतदाताओं से उन्हें (ट्रम्प को) दूसरा कार्यकाल नहीं देने की अपील की है। ट्रम्प ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह ट्रोये को नहीं जानते हैं जो पेंस की आंतरिक सुरक्षा सलाहकार रह चुकी हैं। ट्रम्प के खिलाफ रिपब्लिकन मतदाताओं के समूह ने बृहस्पतिवार को वीडियो को जारी किया जिसमें ट्रोये ने कहा कि ट्रम्प के साथ काम करना ‘भयानक’ था।

उन्होंने कहा कि ट्रम्प दोबारा निर्वाचित होने को लेकर अधिक चिंतित हैं बजाय देश की कोरोना वायरस से रक्षा करने के। ट्रोये ने कहा, ‘‘सच्चाई यह है कि वह किसी की फिक्र नहीं करते, सिवाय खुद के।” उन्होंने जोर देकर कहा, ‘‘अगर राष्ट्रपति ने कोरोना वायरस को गंभीरता से लिया होता या अगर वह वास्तव में यह बताने की कोशिश करते कि वे कितने गंभीर हैं, तो वह संक्रमण की दर को कम कर सकते थे, वह कई जिंदगियों को बचा सकते थे।”

गौरतलब है कि चुनाव प्रचार करने विस्कोंसिन जा रहे ट्रम्प ने पत्रकारों से कहा, ‘‘उन्होंने (ट्रोये) उपराष्ट्रपति के साथ काम किया है। वह निम्न श्रेणी की व्यक्ति के तौर पर कार्यबल में थीं। मुझे नहीं पता कि वह कौन हैं।” उन्होंने कहा, ‘‘जहां तक मेरी जानकारी है मैंने कभी उनसे मुलाकात नहीं की। वह शायद कमरे में थीं। मुझे नहीं पता वह कौन है। वह मुझे नहीं जानती हैं। वह महज अन्य व्यक्तियों की तरह वहां थी। सीएनएन हो या वाशिंगटन पोस्ट वे हमेशा नकारात्मक बाते ही कहेंगे।”

इस बीच, पूरी जिंदगी रिपब्लिकन रहीं ट्रोये ने कहा कि उनकी योजना नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में ट्रम्प के डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन के पक्ष में मतदान करने की है। इस बीच, व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जूड डीर ने ट्रोये के दावे का खंडन किया है और उसे पूरी तरह झूठ करार दिया है।