The US expelled 10 Russian diplomats, also imposed new sanctions amid deteriorating relations with Russia.

वाशिंगटन. अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने देशवासियों से आग्रह किया है कि वे प्रथम श्रेणी के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित किए गए कोविड-19 के टीके पर विश्वास रखें। इसका मूल्यांकन करने में राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल नहीं किया गया है। अमेरिका के खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने शुक्रवार को अमेरिकी दवा कंपनी फाइजर और उसकी जर्मनी की साझेदार बायोएनटेक द्वारा विकसित टीके के आपात स्थिति में देश में इस्तेमाल करने को मंजूरी दे दी है। व्हाइट हाउस की ओर से एफडीए आयुक्त डॉ स्टीफन हन पर दबाव की खबरों के बीच बाइडन ने कहा, “ मैं जनता को स्पष्ट करना चाहता हूं कि आपको इसमें (टीके में) विश्वास रखना चाहिए। इसमें किसी तरह का राजनीतिक प्रभाव नहीं है।”

डेमोक्रेटिक पार्टी से जुड़े बाइडन ने शुक्रवार को डेलवेयर के विलमिंगटन में पत्रकारों से कहा, “ वे प्रथम श्रेणी के वैज्ञानिक हैं और अपना समय ले रहे हैं और उन सभी तत्वों को देख रहे हैं, जिन्हें देखे जाने की जरूरत है। वैज्ञानिकों पर हमारा यकीन हमें यहां तक लेकर आया है। “ उन्होंने कहा, “ आप जानते हैं कि चीजें अभी मुश्किल हैं, लेकिन मेरा दृढ़ता से विश्वास है कि आने वाले दिनों में चीजें बेहतर होंगी। हमें कल एक अच्छी खबर मिली। एफजीए समिति ने फाइजर और बायोएनटेक के कोविड-19 के टीके के आपात स्थिति में इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी है।“ बाइडन ने कहा कि वे उन वैज्ञानिकों, अनुसंधानकर्ताओं, संगठनों के शुक्रगुजार हैं जिन्होंने इस टीके को विकसित किया है।“

उन्होंने कहा, “ हम उन जन विशेषज्ञों के भी आभारी हैं जिन्होंने बिना राजनीतिक प्रभाव के टीके की सुरक्षा और प्रभावशीलता का मूल्यांकन किया।“ रिपब्लिकन पार्टी से जुड़े वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को एक ट्वीट कर एफडीए को “एक बड़ा, पुराना और सुस्त कछुआ“ बताया था। उन्होंने कहा कि डॉ हन अब टीके को इस्तेमाल करने की इजाजत दें। “खेल खेलना बंद करें तथा जिंदगियां बचाना शुरू करें। “ गौरतलब है कि राष्ट्रपति पद के चुनाव में ट्रंप ने अबतक अपनी हार नहीं मानी है। “वाशिंगटन पोस्ट” ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि व्हाइट हाउस के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मीडोज ने शुक्रवार को हन को आदेश दिया कि वह टीके को मंजूरी दें या अपना इस्तीफा दें। बाइन ने इस हफ्ते के शुरू में कहा था कि उन्होंने ऐलान किया है कि उनकी कोविड प्रतिक्रिया टीम टीके के विर्निर्माण और वितरण को बढ़ाएगी। उन्होंने कहा कि पद संभालने के 100 दिनों के भीतर 10 करोड़ लोगों को टीका लगाना उनके प्रशासन का लक्ष्य रहेगा।

बाइडन ने कहा कि अमेरिका में कोविड-19 से एक दिन में तीन हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। यह महामारी के दौरान एक दिन में जान गंवाने वाले लोगों की सबसे ज्यादा संख्या है। वह 20 जनवरी को राष्ट्रपति का पद संभालेंगे। उप राष्ट्रपति निर्वाचित हुई कमला हैरिस ने कहा कि वे स्वास्थ्य देखभाल टीम लेकर आए हैं जो इस महामारी को नियंत्रित करने में मदद करेगी। साथ में एक आर्थिक टीम है जो अर्थव्यवस्था को खड़ा करने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि एक राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेश नीति टीम है जो राष्ट्र को सुरक्षित रखने में मदद करेगी तथा दुनिया भर में अमेरिकी नेतृत्व को बहाल करेगी एवं आगे बढ़ाएगी। जोन होपकिन्स के अनुसार, अमेरिका में कोरोना वायरस के 1,58,34,965 मामले हैं जबकि 2,94,874 लोगों की जान गई है।(एजेंसी)