farmers
File

सिंगापुर: सिंगापुर पुलिस (Singapore Police) ने मंगलवार को कहा कि वह उन सोशल मीडिया पोस्ट (Social Media Post) की जांच कर रही है, जिनमें प्रदर्शनकारी भारतीय किसानों (Protesting Indian Farmers) के समर्थन (Support) में बिना अनमुति के यहां लोगों को एकत्रित दिखाया गया है और साथ ही ”सख्त संदेश” दिया कि वह दूसरे देशों के राजनीतिक मामलों के संबंध में सभाएं करने की अनुमित नहीं देगी।

गौरतलब है कि सितंबर में लाए गए तीन नए कृषि कानूनों (Agriculture Law) के खिलाफ दिल्ली (Delhi) की हरियाणा (Haryana) और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से लगी सीमाओं पर 26 नवंबर से हजारों किसान डेरा जमाए हुए हैं। सिंगापुर के अधिकारियों ने मंगलवार को एक समाचार विज्ञप्ति में कहा, ”पुलिस ने किसी खास मकसद से होने वाली इन सभाओं की कभी अनुमति नहीं दी।”

सिंगापुर पुलिस बल (एसपीएफ) ने ”कड़ा संदेश” भी जारी किया कि शहर में पुलिस की अनुमति के बिना जनसभाएं आयोजित करना या उनमें हिस्सा लेना अवैध है। साथ ही बल ने कहा कि वह दूसरे देशों के राजनीतिक मामलों के संबंध में सभाएं करने की अनुमति नहीं देगा।

‘चैनल न्यूज एशिया’ की खबर में एसपीएफ के हवाले से कहा गया है, ”सिंगापुर आने वाले या यहां रह रहे विदेशियों को हमारे कानूनों का पालन करना चाहिये। कानून का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा और जरूरत पड़ी तो उनके वीजा या काम करने के पास रद्द किए जा सकते हैं।”