Mike Pompeo defends 12 Hong Kong citizens detained by China

वाशिंगटन. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (Mike Pompeo) आस्ट्रेलिया, भारत और जापान (Australia, India and Japan) के विदेश मंत्रियों के साथ होने वाली दूसरी चतुष्कोणीय बैठक में भाग लेने जापान जाएंगे। उनकी प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। भारत, आस्ट्रेलिया, जापान और अमेरिका के बीच दूसरी मंत्रिस्तरीय बैठक छह अक्टूबर को तोक्यो (Tokyo) में होगी, जिसमें इन देशों के विदेश मंत्री कोविड-19 संकट के बाद अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था और वैश्विक महामारी के साथ पैदा होने वाली विभिन्न चुनौतियों से निपटने के लिए समन्वित कदमों की आवश्यकता पर चर्चा करेंगे। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मोर्गन ओर्तागस ने मंगलवार को कहा, ‘‘विदेश मंत्री पोम्पिओ ऑस्ट्रेलिया, भारत और जापान के विदेश मंत्रियों की छह अक्टूबर को होने वाली दूसरी चतुष्पदीय बैठक में हिस्सा लेंगे।”

पोम्पिओ चार अक्टूबर से आठ अक्टूबर तक एशिया के दौरे के तहत उलनबटोर और सियोल की भी यात्रा करेंगे। उन्होंने कहा कि वह वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक के लिए सात अक्टूबर को उलनबटोर जाएंगे और सात एवं आठ अक्टूबर को सियोल जाएंगे। विदेश मंत्री एस जयशंकर चतुष्कोणीय मंत्रिस्तरीय बैठक में भाग लेने के लिए छह और सात अक्टूबर को तोक्यो जाएंगे। वह द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने के लिए अपने जापानी समकक्ष तोशिमित्सु मोतेगी के साथ बातचीत करेंगे। यह बैठक हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन के सैन्य ताकत दिखाने को लेकर बढ़ती वैश्विक चिंताओं की पृष्ठभूमि में होगी। इससे पहले, चतुष्कोणीय बैठक के तहत चारों देशों के विदेश मंत्रियों की पहली मुलाकात सितंबर 2019 को न्यूयॉर्क में हुई थी। अमेरिका हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भारत को अधिक बड़ी भूमिका निभाने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। कई देशों का मानना है कि अमेरिका क्षेत्र में चीन की बढ़ती ताकत को काबू करने के लिए ऐसा कर रहा है।(एजेंसी)