Transfer of ruling power will be done in a disciplined and timely manner: Top Republican leader

न्यूयॉर्क: अमेरिका (America) में राष्ट्रपति पद के चुनाव (Presidential Elections) से पहले किए गए एक सर्वेक्षण में अनुमान जताया गया है कि एशियाई (Asian), अफ्रीकी (African) और लातिन अमेरिकी (Latin American) मतदाता चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन को बड़ी संख्या में वोट देंगे, जबकि श्वेत मतदाता राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को समर्थन देंगे।

सितंबर से अक्टूबर तक 71,000 लोगों से ऑनलाइन मिली प्रतिक्रिया के आधार पर ‘2020 कॉपरेटिव इलेक्शन स्टडी’ (चुनावी अध्ययन) में पाया गया कि सभी संभावित मतदाताओं में से 51 प्रतिशत मतदाता बाइडेन को पसंद करते हैं जबकि 43 प्रतिशत लोग ट्रंप का समर्थन करते हैं।

बाइडेन 18 वर्ष से 29 वर्ष और 30 वर्ष से 44 वर्ष तक के आयुवर्ग के लोगों की पसंद हैं, जबकि 65 साल या इससे अधिक उम्र वाले 53 प्रतिशत मतदाताओं ने ट्रंप को अपनी पसंद बताया। नस्ल और जातीयता के आधार पर मतदाताओं का वर्गीकरण करते हुए सर्वेक्षण में पाया गया कि 65 प्रतिशत एशियाई-अमेरिकी बाइडेन का समर्थन करते हैं जबकि इस समूह के सिर्फ 28 प्रतिशत लोगों ने ट्रंप को अपनी पसंद बताया। वहीं 86 प्रतिशत अश्वेत मतदाताओं ने बाइडेन का समर्थन किया, जबकि ट्रंप के समर्थन में सिर्फ नौ फीसदी अश्वेत लोग हैं।

लातिन अमेरिकी मतदाताओं में से 59 प्रतिशत बाइडेन के समर्थन में हैं ,जबकि ट्रंप को इनमें से सिर्फ 35 प्रतिशत लोगों का ही समर्थन हासिल है। वहीं, 49 प्रतिशत श्वेत लोगों ने ट्रंप का समर्थन किया और 45 प्रतिशत बाइडेन के पक्ष में हैं। देश में 55 प्रतिशत महिलाएं बाइडेन को समर्थन दे रही हैं, जबकि ट्रंप को 39 प्रतिशत महिलाओं का समर्थन हासिल है। वहीं, पुरुष वर्ग में बाइडेन को 47 प्रतिशत और ट्रंप को 48 प्रतिशत मतदाताओं का समर्थन हासिल हो पाया।

सर्वेक्षण में यह भी पाया गया कि बेरोजगार मतदाता बाइडेन का समर्थन कर रहे हैं। बाइडेन को 2016 के चुनाव में हिलेरी क्लिंटन के लिए मतदान करने वाले 95 प्रतिशत लोगों का समर्थन हासिल है, जबकि ट्रंप को चार साल पहले समर्थन देने वाले 90 प्रतिशत मतदाता इस बार भी राष्ट्रपति को ही समर्थन देते प्रतीत हो रहे हैं। (एजेंसी)