Protests in Pakistan, 11 policemen taken hostage by protesters, later released

    लाहौर: पाकिस्तान (Pakistan) के एक गैरकानूनी इस्लामवादी राजनीतिक समूह ने लाहौर (Lahore) में सुरक्षा बलों (Security Forces) के साथ हिंसक झड़प के बीच रविवार को बंधक बनाए गए 11 पुलिसकर्मियों (Police Officials) को सोमवार को मुक्त कर दिया है। गृहमंत्री शेख रशीद अहमद ने उक्त जानकारी दी। कट्टरपंथी तहरीक-ए-लबैक पाकिस्तान पार्टी (Tehreek-E-Labbaik Pakistan Party) के समर्थकों ने रविवार को एक थाने पर हमला कर पुलिसकर्मियों को बंधक बना लिया था।

    समूह अपने नेता साद रिजवी की गिरफ्तारी का विरोध कर रहा है और प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पर रिजवी को तुरंत रिहा करने का दबाव बना रहा है। शुरुआत में पुलिस ने बताया था कि प्रदर्शन कर रहे समूह ने पांच पुलिसकर्मियों को बंधक बनाया है। बाद में एक वीडियो संदेश में गृहमंत्री अहमद ने कहा कि रिजवी के समर्थकों ने 11 पुलिसकर्मियों को बंधक बनाया है।

    उन्होंने बताया कि सरकार के साथ पहले दौर की वार्ता सफल होने के बाद पुलिसकर्मियों को छोड़ा गया है। मंत्रालय ने एक तस्वीर जारी की है जिसमें दिख रहा है कि पुलिसकर्मियों को प्रताड़ित किया गया है।