Senate Confirms Indian-American Scientist's Name as Head of National Science Organization

वाशिंगटन. अमेरिकी सीनेट ने विज्ञान एवं इंजीनियरिंग के गैर-चिकित्सा क्षेत्र में मौलिक अनुसंधान को समर्थन देने वाली अमेरिका की शीर्ष संस्था ‘राष्ट्रीय विज्ञान न्यास’ (एनएसएफ) के निदेशक के तौर पर जाने-माने भारतीय अमेरिकी वैज्ञानिक डॉ. सेतुरमन पंचनाथन के नाम की पुष्टि की है। एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी के पंचनाथन (58) एनएसएफ का नेतृत्व करेंगे। एनएसएफ विज्ञान के क्षेत्र में निधि प्रदान करने वाली शीर्ष अमेरिकी संस्था है, जिसका सालाना बजट 7.4 अरब डॉलर है। पंचनाथन को उनके मित्र एवं परिवार के लोग ‘‘पंच” के नाम से संबोधित करते हैं। उन्हें ऐसे परिवर्तनकारी नेता के रूप में जाना जाता है, जिनके मानवता केंद्रित प्रयासों से वैश्विक स्तर पर सकारात्मक बदलाव आए हैं।

अमेरिकी सीनेट में शुक्रवार को सर्वसम्मति से उनके नाम की पुष्टि की गई। इससे पता चलता है कि शीर्ष वैज्ञानिक के तौर पर वह कितने लोकप्रिय हैं। एनएसएफ की मौजूदा निदेशक फ्रांस कॉरडोवा का छह साल का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। पंचनाथन छह जुलाई को निदेशक के तौर पर कार्यभार संभालेंगे। वह एनएसएफ के निदेशक के तौर पर चुने गए दूसरे भारतीय-अमेरिकी हैं। इससे पहले भारतीय-अमेरिकी डॉ. सुब्रा सुरेश अक्टूबर 2010 से मार्च 2013 तक यह जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

‘इंडियासपोरा’ के संस्थापक एम आर रंगस्वामी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी और डेमोक्रेटिक पार्टी ने सर्वसम्मति से पंचनाथन के नाम की पुष्टि की… इससे पता चलता है कि वह इस कार्य के लिए कितने योग्य हैं। इंडियासपोरा समुदाय को गर्व है कि वह केवल हमारा ही नहीं, बल्कि वृहद समुदाय का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।”(एजेंसी)