दक्षिण कोरिया के कार्यकर्ताओं ने बढ़ते तनाव के बीच गुब्बारों के जरिए पर्चे उत्तर कोरिया भेजे

सियोल. दक्षिण कोरिया के एक कार्यकर्ता ने मंगलवार को कहा कि गुब्बारे से लाखों पर्चे उत्तर कोरिया भेजे गए हैं। उत्तर कोरिया इस तरह की कार्रवाइयों पर जवाबी र्कारवाई की लगातार चेतावनी देता रहा है। इसके बावजूद एक बार फिर वहां पर्चे भेजे गए हैं। दक्षिण कोरियाई सीमा पर स्थित पाजून शहर की पुलिस ने मंगलवार को कहा कि वह पर्चे भेजे जाने के संबंध में जांच कर रही है। कार्यकर्ता पार्क सांग-हाक ने कहा कि उसके संगठन ने विशाल गुब्बारों में 5,00,000 पर्चे, एक डॉलर के 2000 नोट और छोटी किताबें पाजू से सोमवार रात उत्तर कोरिया भेजे हैं।

उत्तर कोरिया से भागकर दक्षिण कोरिया में शरण लेने वाले पार्क ने कहा कि पर्चे भेजना उत्तर कोरियाई लोगों की स्वतंत्रता के लिए न्याय का संघर्ष है। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन को ‘‘एक दुष्ट” और उनके शासन को ‘‘बर्बर” करार देते हुए पार्क ने कहा कि वह अपनी जान की परवाह किए बिना किम को यह पर्चे भेजते रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ उत्तर कोरियाई लोग जब बिना किसी मौलिक अधिकार के आधुनिक गुलाम बन गए हैं तो क्या उन्हें सच जानने का भी अधिकार नहीं है।” वहीं दक्षिण कोरियाई अधिकारियों ने पर्चे भेजने की इन हरकतों पर प्रतिबंध लगाने का संकल्प किया है। उन्होंने कहा कि वे पार्क के खिलाफ मामला दर्ज करेंगे।(एजेंसी)