Suspense on the meeting of the Indo-Pak foreign minister, Shah Mahmood Qureshi said - the meeting is not fixed nor any proposal was given

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री (Foreign Minister) शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने कहा है कि ताजिकिस्तान (Tajikistan) की राजधानी दुशांबे में मंगलवार को होने वाले ‘हार्ट ऑफ एशिया’ (Heart of Asia) सम्मेलन में भारत (India) के विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) से मुलाकात के लिए अभी तक कोई बैठक न तय है और न ही इसका कोई प्रस्ताव दिया गया है। मीडिया में प्रकाशित एक खबर में यह जानकारी सामने आई।

    सम्मेलन में दोनों मंत्रियों के शामिल होने की खबर से उनकी मुलाकात की अटकलें लगाई जा रही हैं। कुरैशी ने रविवार को डॉन अखबार से कहा कि उनके और जयशंकर के बीच कोई बैठक न तय है न ऐसा कोई प्रस्ताव दिया गया है। भारत और पाकिस्तान द्वारा पर्दे के पीछे से राजनयिक संबंधों की पूर्ण बहाली के प्रयास के बारे में मीडिया में आई खबरों पर पूछे गए सवाल के जवाब में कुरैशी ने कहा, “अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है।”

    जयशंकर ने सम्मेलन में कुरैशी से मुलाकात करने के बारे में भी पिछले सप्ताह पूछे गए सवालों का सीधे तौर पर जवाब नहीं दिया था। उन्होंने 26 मार्च को नयी दिल्ली में आयोजित ‘इंडिया इकोनॉमिक कॉन्क्लेव’ में कहा था, “मेरा कार्यक्रम बन रहा है। मुझे नहीं लगता कि अभी तक ऐसी किसी बैठक की योजना बनी है।”

    भारत के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा था कि जयशंकर सम्मेलन में भाग लेने के दौरान अन्य देशों के नेताओं से बातचीत कर सकते हैं।