The process of nomination of Trump will be a private event

वाशिंगटन: राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को फिर से नामित करने के लिए होने वाला मतदान इस माह के अंत में निजी तौर पर कराया जाएगा जहां प्रेस के सदस्य मौजूद नहीं होंगे। रिपबल्किन नेशनल कन्वेंशन की एक प्रवक्ता ने इसके पीछे कोरोना वायरस को कारण बताया। ट्रंप ने जहां पिछले महीने फ्लोरिडा में होने वाले सम्मेलन को देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों का हवाला देते हुए रद्द कर दिया था, वहीं 336 प्रतिनिधि 24 अगस्त को उत्तर कैरोलिना के शार्लोट में एकत्र होकर ट्रंप को एक बार फिर ग्रैंड ओल्ड पार्टी (जीओपी) का उम्मीदवार बनाने के लिए औपचारिक रूप से मतदान करेंगे।

नामांकन सम्मेलनों में पारंपरिक रूप से मीडिया की मौजूदगी बहुत अहम मानी जाती है क्योंकि राजनीतिक पार्टियां कार्यक्रमों के जरिए अपना संदेश अधिक से अधिक मतदाताओं तक पहुंचाने के लिए ध्यान आकर्षित करने की कोशिश करती हैं। अगर जीओपी अपने इस फैसले पर कायम रहती है तो यह आधुनिक इतिहास का पहला पार्टी नामांकन सम्मेलन होगा जिसमें संवाददाता मौजूद नहीं होंगे। सम्मेलन की एक प्रवक्ता ने कहा, “उत्तरी कैरोलिना राज्य के भीतर स्वास्थ्य प्रतिबंधों को देखते हुए, हम शार्लोट के लिए नियोजित गतिविधियों में प्रेस की मौजूदगी नहीं चाहते हैं।”

उन्होंने कहा, “अगर इसमें बदलाव होता है तो इसकी जानकारी देते हुए हमें खुशी होगी लेकिन हम कार्यक्रम में कितने लोग शामिल हो सकते हैं इस संबंध में स्थानीय एवं राज्य द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुरूप काम कर रहे हैं।” वहीं, जीओपी के कुछ प्रतिनिधियों ने दूसरे शहर जाने को लेकर भी समस्या जाहिर की है जहां के नियमों के चलते लौटने पर उन्हें अनिवार्य रूप से पृथक-वास में रहना होगा। (एजेंसी)