TikTok applied for an export license in China to complete the deal in the US

बीजिंग: चीन (China) की बाइटडांस (ByteDance) ने अपने लोकप्रिय वीडियो मंच टिकटॉक (TikTok) का वैश्विक मुख्यालय अमेरिका (America) में स्थापित करने का निर्णय किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के इस पर रोक लगाने के आदेश से बचने के लिए कंपनी ने यह रास्ता निकाला है।

चीन के सरकारी सीजीटीएन टीवी ने बुधवार को एक रपट में कहा कि बाइटडांस की अमेरिकी अधिकारियों के सामने पेश योजना के मुताबिक टिकटॉक अमेरिका में मुख्यालय वाली नयी कंपनी में बहुलांश हिस्सेदार बनी रहेगी।

वहीं प्रौद्योगिकी कंपनी ओरेकल इसमें अल्पांश हिस्सेदार होगी। रपट में कहा गया है कि कंपनी में वालमार्ट अन्य अल्पांश हिस्सेदार होगी। वैश्विक खुदरा कंपनी वालमार्ट (Walmart) ने माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के साथ मिलकर टिकटॉक में हिस्सेदारी खरीदने की पेशकश की थी। इस डेवेलपमेंट की जानकारी रखने वाले व्यक्तियों ने कहा कि योजना की विस्तृत रुपरेखा में बदलाव भी हो सकता है। स्वतंत्र तीसरे पक्ष के लोग नयी कंपनी के निदेशक होंगे।

वहीं बाइटडांस के पास टिकटॉक और उसकी मूल एल्गोरिदम का नियंत्रण बना रहेगा। रपट के मुताबिक अमेरिकी उपयोगकर्ताओं की डेटा सुरक्षा को लेकर ट्रंप सरकार की चिंताओं को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने यह डेटा अमेरिका में ही रखने का निर्णय किया है और ओरेकल इसके लिए डेटा सेवाप्रदाता का काम करेगी।

ट्रंप सरकार ने टिकटॉक को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा करार दिया है। ट्रंप ने छह अगस्त को एक कार्यकारी आदेश जारी कर टिकटॉक के सामने अपने अमेरिकी कारोबार को 20 सितंबर तक बंद करने या किसी अमेरिकी कंपनी को बेचने की समयसीमा रखी थी। भारत ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा और संप्रभुता के लिए खतरा बताते हुये टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर जून में रोक लगा दी थी। बाद में 118 चीनी ऐप पर भी राक लगा दी गई।