Japan declares state of emergency in Tokyo two weeks before Olympics
File

    तोक्यो: जापान (Japan) के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा (Prime Minister Yoshihide Suga) ने तोक्यो (Tokyo) में कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते मामलों की वजह से शहर में आपात स्थिति की घोषणा की। इसके बाद तोक्यो ओलंपिक में दर्शकों के आने पर प्रतिबंध लगाये जाने की संभावना है। यह घोषणा ऐसे समय में हुई है जब अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाक बृहस्पतिवार को तोक्यो पहुंच गये।

    सुगा ने कहा कि सोमवार से आपात स्थिति प्रभाव में आ जाएगी और 22 अगस्त तक रहेगी। इसका मतलब हुआ कि 23 जुलाई से शुरू होकर आठ अगस्त तक चलने वाले ओलंपिक का आयोजन पूरी तरह आपातकालीन कदमों के साथ होगा। उन्होंने कहा कि देश में भविष्य में संक्रमण के मामले फिर से न बढ़ें, इसके लिए आपात स्थिति लागू करना जरूरी है। तोक्यो के हानेदा हवाईअड्डे पर कैमरों सें बचते हुए बाक आईओसी के मुख्यालय पहुंचे जो शहर के बीचोंबीच स्थित पांच सितारा होटल में बनाया गया है। बताया जाता है कि उन्हें तीन दिन के लिए पृथक-वास में रहना होगा।

    आईओसी और स्थानीय आयोजक जापान की जनता और चिकित्सा बिरादरी के बावजूद महामारी के दौरान खेलों के आयोजन का प्रयास कर रहे हैं। आपात स्थिति में मुख्य रूप से ध्यान शराब परोसने वाले बार और रेस्तराओं को बंद करने की अपील पर है। यह शराब परोसने पर पाबंदी ओलंपिक संबंधी गतिविधियों को सीमित करने की ओर एक कदम है।

    तोक्यो के निवासियों से घरों में रहने और घर से टीवी पर ही ओलंपिक देखने को कहा जा सकता है। स्वास्थ्य मंत्री नोरिहिसा तामुरा ने कहा, ‘‘मुख्य मुद्दा यह है कि लोगों को ओलंपिक का आनंद उठाते हुए शराब पीने के लिए बाहर जाने से कैसे रोका जाए।”