Why is America's presidential election important for India? Know, what is the experience of experts....
File

वाशिंगटन: अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) और डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party) के उनके प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन (Joe Biden) के बीच राष्ट्रपति पद के चुनाव (Elections) के लिए शुक्रवार को अंतिम आधिकारिक बहस (प्रेसिडेंशियल डिबेट) (Presidential Debate) हुई। अमेरिका में तीन नवम्बर को राष्ट्रपति चुनाव होने हैं।

ऑनलाइन बहस करने से ट्रम्प के इनकार करने के बाद 15 अक्टूबर को होने वाली दूसरी बहस को रद्द कर दिया गया था। ट्रम्प के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण बाइडेन आमने-सामने बहस करने को लिए चिंतित थे। इससे पहले, दोनों नेताओं के बीच पिछले महीने हुई पहली बहस काफी गर्मागर्म रही थी, जिसमें कोविड-19, नस्ली भेदभाव, अर्थव्यवस्था और जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दे उठाए गए थे।

तीसरी बहस के दौरान ट्रम्प ने कोविड-19 का टीका ‘‘तैयार” होने का दावा किया और कहा कि ‘‘कुछ सप्ताह” में इसकी घोषणा की जाएगी। राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘हमारे पास टीका है, जो आने वाला है .. तैयार है। इसकी कुछ सप्ताह में घोषणा की जाएगी और इसे वितरित किया जाएगा।”

ट्रम्प ने दावा किया कि उन्होंने वैश्विक महामारी से निपटने की दिशा में अच्छा काम किया है और देश को ‘‘उसके साथ रहने की आदत डालनी होगा”। इस पर बाइडेन ने कहा कि ट्रम्प के पास कोई योजना नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘वह (ट्रम्प) हमेशा कहते हैं कि लोग इसके साथ जीना सीख रहे हैं। लोग इसके साथ मरना सीख रहे हैं।”

बाइडेन ने कहा, ‘‘ मैं इससे निपटूंगा। मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि हमारे पास इसके लिए कोई योजना हो।” अमेरिकी विश्वविद्यालय ‘जॉन हॉपकिन्स’ के अनुसार अमेरिका में कोविड-19 के 80 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं और 2,23,000 लोगों की इससे मौत हुई है।