कोविड -19 : ट्रंप और रिपब्लिकन पार्टी बेरोजगारी भत्ते पर विपक्षियों पर पड़े नरम

वाशिंगटन. व्हाइट हाउस और रिपब्लिकन पार्टी के नेता 600 डॉलर प्रति सप्ताह के पूरक बेरोजगारी भत्ता पर विपक्षियों पर नरम पड़ते दिखाई दे रहे हैं। इस योजना ने अर्थव्यवस्था और परिवारों के बजट को संभाला है, लेकिन यह योजना शुक्रवार को समाप्त हो गई। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पूरक बेरोजगारी भत्ता आगे बढ़ाना चाहते हैं। कोविड-19 राहत विधेयक पर बातचीत चल रही है और इसमें बेरोजगारी बीमा एक अहम घटक है। कैपिटल हिल्स में बृहस्पतिवार को बैठक बेनतीजा रहने के बाद डेमोक्रेटिक पार्टी के शीर्ष नेताओं ने ट्रंप प्रशासन के प्रतिनिधियों के साथ शनिवार को बैठक करने की घोषणा की। दोनों पक्षों ने शुक्रवार सुबह मीडिया के सामने अपना-अपना पक्ष रखा।

व्हाइट हाउस के प्रमुख मार्क मीडोज ने तत्काल ही संक्षिप्त नोटिस पर पत्रकारों से बात की, तो वहीं हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने साप्ताहिक संवाददाता सम्मेलन बुलाया। मीडोज ने डेमोक्रेट्स पर बातचीत से इनकार करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने उन्हें पूरक बेरोजगारी भत्ता को विस्तारित करने की कोशिश तेज करने का निर्देश दिया है, लेकिन डेमोक्रेट्स इस पर राजनीति करना चाह रहे हैं। एक शीर्ष डेमोक्रेट नेता ने कहा कि व्हाइट हाउस ने बृहस्पतिवार को 600 डॉलर साप्ताहिक बेरोजगारी भत्ता को एक सप्ताह बढ़ाने का सुझाव दिया था, लेकिन हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने इसे खारिज कर दिया।

उनका कहना था कि इसे एक अधिक व्यापक विधेयक के रूप में लाया जाना चाहिए, जो महामारी के वक्त राज्य और स्थानीय सरकारों को सहायता प्रदान करे,गरीबों को सहायता दे और स्कूलों और कॉलेजों को धन मुहैया काराए। हालांकि, इस दिशा में कोई निर्णय नहीं होने पर बेरोजारी भत्ता शुक्रवार को समाप्त हो गया। पेलोसी ने कहा,‘‘ स्पष्ट है कि वे स्थिति की गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं और अल्प अवधि के लिए विस्तार तभी सही है, जब दोंनो पक्ष किसी समझौते के निकट हों।” ट्रंप ने बृहस्पतिवार को व्हाइट हाउस में कहा, “हम बेरोजगारी भत्ता का अस्थायी विस्तार चाहते हैं। यह अमेरिकियों के लिए एक महत्वपूर्ण मार्ग का काम करेगा जिन्होंने महामारी के चलते अपनी नौकरी खो दी है और उसमें उनकी कोई गलती नहीं है।”