Trump wins in Alaska, 'electoral college vote' increases to 217
File

वाशिंगटन: अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने देश में 2016 में हुए राष्ट्रपति पद के चुनाव में रूस (Russia) के कथित हस्तक्षेप संबंधी मामले को फर्जी बताते हुए इससे जुड़े सभी दस्तावेजों को ‘‘पूरी तरह सार्वजनिक” करने का आदेश दिया।

ट्रम्प ने मंगलवार रात को ट्वीट किया, ‘‘मैंने अमेरिकी इतिहास में सबसे बड़े एकमात्र राजनीतिक अपराध – रूसी हस्तक्षेप संबंधी फर्जी मामले से जुड़े सभी दस्तावेजों को पूरी तरह सार्वजनिक करने का पूरा अधिकार दिया है। इसी तरह हिलेरी क्लिंटन के ईमेल प्रकरण में किया गया। कोई संपादन नहीं।”

इस घोषणा से कुछ ही घंटों पहले राष्ट्रीय खुफिया के निदेशक ने कुछ दस्तावेजों को सार्वजनिक किया था। ‘फॉक्स न्यूज’ ने कहा कि हस्तलिखित दस्तावेजों में खुलासा हुआ है कि पूर्व सीआईए निदेशक जॉन ब्रेनन ने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama) को जानकारी दी थी कि 2016 के राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने ट्रम्प को रूस के साथ जोड़ने की कथित योजना बनाई थी, ताकि ‘‘उनके (हिलेरी के) निजी ईमेल सर्वर के इस्तेमाल से लोगों का ध्यान हटाया जा सके”।