Turkish President Recep Tayyip Erdogan told Russia's President Vladimir Putin - it is necessary to teach Israel a 'lesson'

    अंकारा: तुर्की (Turkey) के राष्ट्रपति (President) रेसेप तैयप एर्दोआन (Recep Tayyip Erdogan) ने रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से कहा कि फलस्तीनियों (Palestinian) के प्रति इजराइल (Israel) के रवैये के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय समुदाय (International Community) को ‘‘उसे कड़ा एवं कुछ अलग सबक सिखाना” चाहिए।

    तुर्की के राष्ट्रपति संचार निदेशालय के मुताबिक, दोनों देशों के नेताओं ने बुधवार को टेलीफोन पर यरूशलम के विवादित क्षेत्र को लेकर तनाव पर चर्चा की। बयान के अनुसार एर्दोआन ने कहा कि ‘‘अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इजराइल को कड़ा एवं अलग सबक सिखाना” चाहिए और कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् को त्वरित हस्तक्षेप करना चाहिए ताकि इजराइल को ‘‘स्पष्ट संदेश” जाए।

    बयान में कहा गया कि एर्दोआन ने पुतिन को सुझाव दिया कि फलस्तीनियों की रक्षा के लिए अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा बल पर विचार किया जाना चाहिए। इस बीच इंस्तांबुल में हजारों लोगों ने मंगलवार की शाम देशव्यापी कोरोना वायरस कर्फ्यू का उल्लंघन कर इजराइली हमले के विरोध में प्रदर्शन किया। काफी संख्या में कारों का काफिला तुर्की एवं फलस्तीनी झंडे लहराते हुए इजराइली दूतावास की तरफ रवाना हुए।