पुलिस के वाहन को आग लगाने के मामले में ब्रुकलिन के दो अटॉर्नी को मिली जमानत

न्यूयॉर्क. न्यूयॉर्क में विरोध प्रदर्शन के दौरान एक पुलिस वाहन को आग के हवाले करने के आरोप का सामना कर रहे दो अधिवक्ताओं को सोमवार को जमानत मिल गई। हालांकि उनकी इस जमानत पर संघीय अभियोजकों ने आपत्ति जताते हुए कहा कि ये दोनों फिर से हिंसक प्रदशर्नो में शामिल हो सकते हैं। अमेरिका के मजिस्ट्रेट स्टीवन गोल्ड ने कहा, ” एक रात का व्यवहार इस बात का आधार नहीं हो सकता है कि किसी व्यक्ति के तर्कसंगत फैसले लेने की क्षमता को ही खारिज कर दिया जाए।”

मिनिसोट में एक अश्वेत व्यक्ति की मौत उस समय हो गई थी जब एक श्वेत पुलिसकर्मी ने अपने घुटने से उसके गर्दन को कई मिनट तक दबाए रखा था। इस घटना के बाद अमेरिका के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया और आगजनी की कई घटनाएं हुईं। 32 वर्षीय कॉर्पोरेट अटॉर्नी कोलीनफोर्ड मैटिस और 31 वर्षीय मानवाधिकार वकील उरूज रहमान पर शनिवार को ब्रुकलिन में एक पुलिस वाहन को हिंसक विरोध प्रदर्शन के दौरान आग लगाने का आरोप है। (एजेंसी)