joe biden
File Pic

    नई दिल्ली: 9/11 (20 years of 9/11) के दिन ने इतिहास को बदल दिया था। जब मुट्ठीभर आतंकियों ने सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका में घुसकर आतंकी हमले को अंजाम दिया था। इस दर्दनाक हादसे को आज 20 साल भले ही पूरे हो गए हों लेकिन इसके जख्मे आज भी अमेरिका के दिल में जिंदा हैं। बताना चाहते हैं साल 2001 में 11 सितंबर को ये आतंकी हमला हुआ था। इस मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) ने ट्वीट कर मृतकों को याद किया है। 

    ज्ञात हो कि जो बाइडेन ने कहा कि 11 सितंबर 2001 के 20 वर्ष बाद हम 2977 लोगों को हम याद करते हैं जिन्हें हमने खोया है। उन्होंने कहा कि हम इन लोगों का सम्मान करते हैं। एकता हमारी ताकत है, यही हमें बनाता है आखिर हम कौन हैं। राष्ट्रपति ने ट्वीट के साथ एक वीडियो के माध्यम से लोगों को संदेश भी दिया है।

    अमेरिकी राष्ट्रपति का ट्वीट-

    गौर हो कि 9/11 हमले को अमेरिका के इतिहास में सबसे बड़े आतंकी हमले के तौर पर देखा जाता है। जब साल 2001 में 11 सितंबर के दिन अलकायदा के आतंकियों ने यात्री विमान को मिसाइल की तरह इस्तेमाल करे हुए वर्ल्ड ट्रेड टॉवर और पेंटागन को अपना निशाना बनाया था। इस हमले में 40 अरब अमेरिकी डॉलर का नुकसान हुआ था।

    वहीँ हमले के बाद आज भी यह सवाल उठते हैं कि क्या ये आतंकी हमला अमेरिका खुफिया एजेंसियों की नाकामी के चलते हुआ? तत्कालीन बुश प्रशासन को भी लोग कटघरे में खड़े करते रहे हैं। अमेरिका के न्यूयॉर्क में सुबह 8 बजकर 46 मिनट पर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के नॉर्थ टॉवर पर अमेरिकन एयरलाइंस का विमान11 टकराया था फिर 16 मिनट बाद 9 बजकर 2 मिनट पर WTC के साउथ टॉवर पर यूनाइटेड एयरलाइंस का विमान175 टकराया था। फिर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर गिर गया था।