America started sending weapons to Ukraine accused China and Iran of helping Russia
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन File Photo

Loading

वाशिंगटन: रूस (Russia) और यूक्रेन (Ukraine ) के बीच लंबे वक्त से जारी युद्ध के बीच अमेरिका (America) ने बुधवार को यूक्रेन को हथियार और गोला बारूद भेजना प्रारंभ कर दिया। साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने चीन, ईरान और उत्तर कोरिया पर रूस की मदद करने का आरोप लगाया।

सुरक्षा सहायता संबधी हस्ताक्षर

बाइडन ने यूक्रेन और इजराइल को मदद देने और ताइवान समेत हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिका और उसके सहयोगियों की सुरक्षा मजबूत करने के लिए 95.3 अरब अमेरिकी डॉलर के सहायता पैकेज संबंधी विधेयक पर हस्ताक्षर किए हैं।

इन देशों पर अमेरिका ने लगाया आरोप

अमेरिका ने विधेयक पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के मित्र उन्हें लगातार साजो सामान की आपूर्ति कर रहे हैं। ईरान ने उन्हें ड्रोन भेजे। उत्तर कोरिया ने बैलेस्टिक मिसाइल और तोप के गोले भेजे हैं, चीन रूस के रक्षा उत्पादन को बढ़ाने के लिए सामान मुहैया करा रहा है।

पलटवार के लिए अमेरिका तैयार

बाइडन ने कहा, इस प्रकार का सहयोग मिलने पर रूस ने यूक्रेनी शहरों और महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों को निशाना बनाते हुए हवाई हमले तेज कर दिए हैं। अपनी मातृभूमि की रक्षा कर रहे यूक्रेन के वीर जवानों पर गोला-बारूद बरसाएं हैं और अब अमेरिका यूक्रेन को युद्ध में अपनी रक्षा करने और तेज पलटवार करने के लिए आवश्यक साजो सामान की आपूर्ति करने जा रहा है।

यूक्रेन की रक्षा अमेरिका प्रतिबद्ध

इसके कुछ घंटों बाद अमेरिका ने पोतों और विमानों के जरिए यूक्रेन को हवाई रक्षा सामग्री, रॉकेट प्रणाली और बख्तरबंद वाहन भेजने प्रारंभ कर दिए। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा,‘‘ ये पैकेज न केवल यूक्रेन की रक्षा में बल्कि यूरोप की रक्षा और हमारी अपनी सुरक्षा के लिए निवेश सरीखा है। वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने ‘फॉक्स न्यूज’ को दिए एक साक्षात्कार में मदद के लिए अमेरिका का आभार व्यक्त किया है।(एजेंसी)