In view of the threat of Corona, Australia reduced the prescribed number of passengers
File

    वेलिंगटन: ऑस्ट्रेलिया (Australia) ने बुधवार को कहा कि वह अपनी रक्षा क्षमताओं (Defense Capabilities) को बढ़ाने के लिए अमेरिका (America) के साथ मिल कर नियंत्रित मिसाइलों (Missiles) का निर्माण शुरू करेगा। प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Prime Minister Scott Morrison) ने कहा कि ‘‘बदलते हुए वैश्विक माहौल” को देखते हुए वह मिसाइल निर्माण के लिए हथियार निर्माता के साथ साझेदारी करेगा, इससे रोजगार के हजारों अवसर पैदा होंगे और निर्यात के अवसर बढ़ेंगे।

    मॉरिसन ने कहा कि उनका देश रक्षा और सुरक्षा उद्योग में दस वर्ष में बड़े निवेश की योजना के तहत एक अरब ऑस्ट्रेलियाई डॉलर खर्च करेगा। उन्होंने कहा,‘‘ ऑस्ट्रेलिया के लोगों को सुरक्षित रखने के लिए ऑस्ट्रेलिया की धरती पर हमारी अपनी स्वतंत्र क्षमता निर्माण जरूरी है।”

    रक्षा मंत्री पीटर डुटॉन ने कहा, ‘‘हम इस अहम पहल पर अमेरिका के साथ मिल कर काम करेंगे ताकि यह समझा जा सके कि किस प्रकार से हमारा उद्यम ऑस्ट्रेलिया की जरूरतों को और हमारे सबसे अहम सैन्य साझेदार की बढ़ती जरूरतों को पूरा कर सकता है।”

    उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में हथियार निर्माण न केवल उसकी क्षमताओं को बढ़ाएगा बल्कि यह भी सुनिश्चित करेगा कि वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में किसी प्रकार की बाधा आने पर भी उनके देश के पास लड़ाकू अभियानों के लिए पर्याप्त मात्रा में हथियार हों।