अविश्वास प्रस्ताव के पहले पाकिस्तान में बढ़ी हलचल, प्रधानमंत्री इमरान खान से मिलने पहुंचे बाजवा

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान में राजनीतिक संकट गहराता जा रहा है। इमरान खान की कुर्सी जाना लगभग तय हो गया है। वहीं विपक्ष के लाये अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के पहले बड़ी हलचल शुरू हो गई है। इसी बीच पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद वाजवा प्रधानमंत्री इमरान से मिलने उनके आवास पर पहुंचे हैं। दोनों के बीच पिछले कई देर से बातचीत चल रही। इस बैठक में आईएसआई के डीजी नदीम अंजुम भी मौजूद हैं। 

    दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा 

    अविश्वास प्रस्ताव में मतदान के पहले इमरान को लगातार झटके लग रहे हैं। कौमी एकता के अलग होने और विपक्ष के खेमे में जाने के बाद से इमरान कैबिनेट के दो और मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। दोनों नेता विपक्षी गठबंधन में शामिल हो गए हैं। जिसके बाद सदन में इमरान की सरकार जाना तय हो चुका है। 

    आज दें सकते हैं इस्तीफा 

    गठबंधन के साथियों के छोड़ने और सदन में बहुमत खोने के आसार को देखते हुए इमरान खान रात में पाकिस्तान की जनता को संबोधित करेंगे। मीडिया में चल रही खबरों की माने तो वह अपने इस संबोधन के आखिरी में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे। हालांकि, मंत्री फवाद खान ने कहा कि, इमरान आखिरी गेंद तक बैटिंग करेंगे।

    चुनावों पाकिस्तान के खिलाफ साजिश

    इमरान के संबोधन के पहले विपक्ष ने पत्रकारों को संबोधित किया और इमरान खान पर बेईमानी से सरकार बनाने का आरोप लगाया। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता बिलावल भुट्टो ने कहा कि, 2018 में चुनाव के नाम पर चयन पूरे पाकिस्तान के खिलाफ एक साजिश थी। उन्हें इस्तीफा देना होगा, वह ज्यादा देर तक दौड़ते नहीं रह सकते। संसद का सत्र कल है, चलो कल मतदान करते हैं और मामले को सुलझाते हैं ताकि हम आगे बढ़ सकें। वहीं नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि,  प्रधानमंत्री इमरान अब खुद ही हिट विकेट हो चुके हैं।