Changes in UK vaccination policy, allowing cheap covid tests for fully vaccinated travelers
File

    लंदन: यात्रा प्रतिबंध (Travel Restrictions) की लाल सूची (Red List) में नहीं रखे गए देशों से पूर्ण टीकाकरण (Vaccination) के बाद इंग्लैंड (England) लौटने वाले यात्री 24 अक्टूबर से प्रभावी नए नियमों के तहत अधिक महंगे पॉलिमरेज़ चेन रिएक्शन (पीसीआर) परीक्षण के बजाय सस्ता लेट्रल फ्लो टेस्ट (एलएफटी) कराकर कोविड-19 (Covid-19) की नेगेटिव रिपोर्ट दे सकते हैं।

    सरकार ने कहा कि, भारत समेत करीब 100 देशों एवं क्षेत्रों में टीकाकरण करवा चुके यात्रियों को भी पूर्ण टीकाकरण करा कर लौटने वाले ब्रिटेन निवासियों की तरह माना जाएगा। लाल सूची में नहीं रखे गए देशों से इंग्लैंड पहुंचने वाले ये पात्र, पूरी तरह से टीकाकरण करा चुके यात्री, पीसीआर जांचों के बजाय 24 अक्टूबर से अपने आगमन के दो दिन पहले या उससे पहले एलएफटी करा सकते हैं। एलएफटी 22 अक्टूबर से बुक किया जा सकता है और इसका उद्देश्य मुख्य रूप से इस महीने के अंत में स्कूल की आगामी छुट्टियों के दौरान घूमने की योजना बनाने वाले परिवारों के लिए है।

    ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने कहा, “हम विदेश जाने को आसान एवं सस्ता बनाना चाहते हैं, भले ही आप काम के मकसद से यात्रा कर रहे हों या दोस्तों और परिवार के पास जा रहे हों।”

    उन्होंने कहा, “छुट्टियों से लौटने वालों के लिए इस महीने के आखिर में लेट्रल फ्लो टेस्ट उपलब्ध होगा। जांचों में यह परिवर्तन केवल हमारे टीकाकरण कार्यक्रम की अविश्वसनीय प्रगति से संभव हुआ है, जिसका मतलब है कि वायरस के साथ जीने की आदत डालते हुए हम यात्रा को सुरक्षित रूप से खोल सकते हैं।” यात्री पीसीआर के विकल्प के रूप में निजी जांच प्रदाताओं से सस्ते एलएफटी ऑर्डर करने में सक्षम होंगे, जिससे तेजी से परिणाम मिलेंगे।

    (एजेंसी)