China steps up to Taliban's aid, will give $ 13 million help to Afghanistan

    बीजिंग: अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान सरकार (Taliban Government) बनने के बाद चीन (China) ने बड़ा फैसला किया है। खबर है कि, चीन  ने तालिबान सरकार के लिए अपना खाजाना खोलते हुए 13 मिलियन यूएस डॉलर्स की मदद का एलान किया है। इस मदद को लेकर जो दलील चीन ने दी है वह यह है कि, वहां अराजकता खत्म करने, व्यवस्था को बहाल करने के लिए चीन की अफगानिस्तान को यह मदद जरूरी है। 

    रिपोर्ट्स के अनुसार, चीन की तालिबान सरकार को मदद की पहली खेप में अनाज, आगामी सर्दी के मौसम का सामान, कोविड वैक्सीन की खुराकें और दवाएं देगा। बता दें कि, बुधवार को एलान करते हुए चीन के विदेश मंत्री ने पाकिस्तान द्वारा आयोजित एक ऑनलाइन बैठक में किया। पाकिस्तान की अध्यक्षता वाली इस मीटिंग में ईरान, तजाकिस्तान, तुर्केमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान के विदेश मंत्री भी मौजूद थे। 

    दरअसल, पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद बुधवार को अफगानिस्तान के पड़ोसी देशों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक की पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने की थी। तालिबान मानता है कि, चीन उसके लिए एक महत्वपूर्ण देश है।

    वैसे पाकिस्तान की अफगानिस्तान के मामलों में दखलंदाज़ी बढ़ती जा रही है। इससे अफगानिस्तान के लोगों का एक बड़ा तपका नाराज़ है। पिछले दिनों अफगानिस्तान में पाकिस्तान के खिलाफ रैली निकाली गई थी जिसमें पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए गए थे। 

    तालिबान ने अफगानिस्तान में अपने कब्ज़े के बाद मंगलवार को सरकार बना ली है। सरकार बनाने की घोषणा करते हुए तालिबान ने मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद को प्रमुख और अब्दुल गनी बरादर को डिप्टी बनाया है।