Shenzhou-18 of China launch today
शेनझोउ-18 क्रू से अंतरिक्ष जाने वाले यात्री (सौजन्य: सोशल मीडिया)

चीन आज तीन अंतरिक्ष यात्रियों को शेनझोउ-18 क्रू से तियांगोंग अंतरिक्ष स्टेशन पर भेजेगा।

Loading

चीन: चीन (China) की अंतरिक्ष एजेंसी (Space Agency) अपने महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष कार्यक्रम के तहत बृहस्पतिवार को अंतरिक्ष यान ‘शेनझोउ-18′ (Spacecraft Shenzhou-18)को अंतरिक्ष यात्रियों के साथ पृथ्वी की निचली कक्षा में भेजने की अंतिम तैयारी कर रही है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य 2030 तक लोगों को चंद्रमा पर भेजना है। चाइना मैन्ड स्पेस एजेंसी (सीएमएसए) के उप निदेशक लिन जिकियांग (Lin Zhiqiang) ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि तीन अंतरिक्ष यात्रियों ये गुआंगफू (Ye Guangfu), ली कांग (Li Kang) और ली गुआंगसु (Li Guangsu) इस मिशन का हिस्सा हैं और ये पहली बार अंतरिक्ष में जायेंगे।

तीन सदस्यीय चालक दल को लेकर अंतरिक्ष यान देश के उत्तर-पश्चिम में गोबी रेगिस्तान के किनारे पर स्थित जिउक्वान उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से रात 8:59 बजे उड़ान भरेगा। दल अंतरिक्ष स्टेशन पर लगभग छह महीने तक रहेगा। लिन जिकियांग ने बताया कि वे वैज्ञानिक परीक्षण करेंगे, अंतरिक्ष स्टेशन पर अंतरिक्ष मलबे के संरक्षण के लिए उपकरण स्थापित करेंगे और अन्य प्रयोग करेंगे।

उन्होंने कहा कि चीन अंततः विदेशी अंतरिक्ष यात्रियों और अंतरिक्ष पर्यटकों को अपने अंतरिक्ष स्टेशन तक पहुंच प्रदान करने की दिशा में काम कर रहा है। चीन ने 2003 में अपना पहला मानव अंतरिक्ष मिशन शुरू किया था। चीन पूर्व सोवियत संघ और अमेरिका के बाद अपने संसाधनों का इस्तेमाल करके किसी व्यक्ति को अंतरिक्ष में भेजने वाला तीसरा देश बन गया था। चार देश, अमेरिका, रूस, चीन और भारत चांद पर अंतरिक्ष यान उतार चुके हैं।

(एजेंसी इनपुट के साथ)