Rs 1,000 cr to be spent by Delhi govt on G20 summit prep, related events
File Photo

Loading

वाशिंगटन: अमेरिका में भारतीय प्रवासी समुदाय को एकजुट करने की दिशा में काम करने वाले एक अग्रणी गैर-लाभकारी संगठन ‘इंडियास्पोरा’ ने बुधवार को घोषणा की कि वह 2047 तक की भारत की यात्रा में भारतीय प्रवासी समुदाय की भूमिका पर विचार-मंथन करने के लिए इस महीने के अंत में नई दिल्ली में एक जी20 फोरम की मेजबानी करेगा। 

संगठन द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, इंडियास्पोरा जी20 फोरम 22 अगस्त से आयोजित किया जाएगा और इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में विदेश नीति, वित्तीय समावेशन, जलवायु परिवर्तन, लैंगिक समानता, स्वास्थ्य देखभाल, परमार्थ, उद्यमिता, खेल, व्यापार और निवेश से जुड़े अहम मुद्दों पर विचार-विमर्श के लिए दुनियाभर के प्रभावशाली लोगों को बुलाया जाएगा।

 ‘इंडियास्पोरा-इंडिया’ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीकुमार नायर ने कहा, ‘‘इंडियास्पोरा जी20 फोरम वैश्विक स्तर पर एक स्थायी प्रभाव पैदा करने का अनूठा अवसर देता है। इस कार्यक्रम को आयोजित कर, हमारा लक्ष्य ऐसे ठोस समाधान निकालना है जो सीमाओं से परे हों और सहयोग को बढ़ावा दें। यह मंच सकारात्मक बदलाव लाने तथा आने वाली पीढ़ियों के लिए एक सार्थक विरासत छोड़ने की भारतीय प्रवासी समुदाय की सामूहिक प्रतिबद्धता का प्रमाण है।”

इंडियास्पोरा के कार्यकारी निदेशक संजीव जोशीपुरा ने कहा, ‘‘भारत के जी20 की अध्यक्षता संभालने पर इंडियास्पोरा जी20 फोरम के आयोजन के लिए इससे उपयुक्त समय नहीं हो सकता। इंडियास्पोरा इस पर मंथन करने के लिए 25 देशों के 200 प्रवासी नेताओं को बुला रहा है कि हम भारत की आजादी के 100 वर्ष पूरे होने के उसके सफर में कैसे योगदान दे सकते हैं।