iran-israel
ईरान की इजराइल को धमकी

Loading

नई दिल्ली: इजराइल और हमास जंग  (Israel-Hamas War) पर मिल रही बड़ी खबर के अनुसार अब ईरान (Iran) के सेना प्रमुख हुसैन सलामी ने इजराइल को सीधे तैर पर धमकी दी है कि, अगर बीते 7 अक्तूबर जैसे कुछ और हमले हुए तो अगले 48 घंटे में दुनिया से इजराइल का नामो-निशान ही मिटा दिया जाएगा।  

ईरान : मिटा देंगे  इजराइल का नाम 

इतना ही नहीं इरान के सेना प्रमुख सलामी ने यह भी कहा कि गाजा से तेल अवीव की दूरी मात्र 70 किलोमीटर है, जबकि वेस्ट बैंक से तेल अवीव केवल 40 किलोमीटर दूर पर ही स्थित है।  IRGC चीफ ने आगे यह भी कहा कि कोई भी इज़रायली अब चैन की नींद नहीं सोता, क्योंकि उन्हें हमेशा 7 अक्तूबर जैसे हमले का डर सताता रहता है। 

दरअसल ईरान से लगातार इजरायल की तनातनी चल ही रही है। वहीँ इजरायल के गाजा पट्टी पर हमले शुरू करने के बाद से ही लेबनान के ईरान समर्थित आतंकवादी संगठन हिज्बुल्ला लगातार नए मोर्चे खोलने की धमकी देता आ रहा है।  

अमेरिका ने ईरान को दी वार्निंग 

वहीं अमेरिका भी यह साफ़ कर चूका है कि हिज्बुल्ला और ईरान ने अगर इजरायल पर हमला किया तो वे भी सैन्य कार्रवाई करेंगे। हालाँकि अमेरिका यह भी कह रहा है कि वह नहीं चाहता कि गाजा में चल रहा युद्ध दूसरे देशों में भी फैले। इसके साथ ही अमेरिका बार-बार ईरान और हिज्बुल्ला को भी चेता रहा है। अमेरिका ने यह पहले ही स्पष्ट किया कहा है कि ईरान इस युद्ध से दूर रहे नहीं तो उसको इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।

इन सब समीकरणों के बाद अब एक बार फिर ईरान द्वारा इजराइल को साफ़ धमकी देना किसी बड़े उठापटक की तरफ इशारा कर रही है।  हालाँकि गुरुवार से पहले इजराइल ने जहाँ 210 फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा कर दिया था।  वहीं हमास की कैद में कम इजराइली महिलाओं और बच्चों के बचे होने के चलते, युद्धविराम का विस्तार करने के लिए सैनिकों सहित पुरुषों की रिहाई के लिए नई शर्तें निर्धारित करने पर शायद फिर नए सिरे से बात हो सकती है।