जानें क्यों मनाया जाता है परमाणु हथियारों के पूर्ण उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस

    नई दिल्ली : हर साल दुनिया भर में 26 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय परमाणु हथियारों का पूर्ण उन्मूलन दिवस (International Day for the Total Elimination of Nuclear Weapons) मनाया जाता है।

    परमाणु हथियारों का खतरा इंसानी जीवन के लिए और संसार के सभी जीव के लिए बेहद हानिकारक है। इस वजह से परमाणु हथियारों का उन्मूलन होना बेहद जरूरी है। आइए जानते है इस दिवस से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी…. 

    सबसे पहली बार विश्वभर में 26 सितंबर 2017 अंतरराष्ट्रीय परमाणु हथियारों का पूर्ण उन्मूलन दिवस (International Day for the Total Elimination of Nuclear Weapons) यह दिन मनाया गया था। इस दिन को मनाने का एक बेहद जरूरी और महत्वपूर्ण उद्देश्य है। इस उद्देश्य के तहत विश्व के विभिन्न देशों को परमाणु हथियारों के खतरे के प्रति जागरूक करना है। साथ ही परमाणु हथियारों का उन्मूलन के लिए मनाया जाता है। 

    इस दिवस पर दुनिया भर में सभी लोगों को और विश्व के नेताओं को यह बात बताई जाती है कि परमाणु हथियारों से केवल विनाश ही हो सकता है। इन परमाणु हथियारों की वजह से सामाजिक, आर्थिक हानि होती है साथ ही इंसानी जीवन भी तबाह होता है।

    इन परमाणु हथियारों के उपयोग से जो हानि हुई है इसके दुनिया भर में कई उदाहरण अपने सामने है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण जापान का हिरोशिमा और नागासाकी शहर है जो परमाणु हथियार की वजह से पूरी तरह तबाह हो गया था।